अगर बिना टाेल क्रॉस किए कट रहा है बैलेंस तो फास्टैग कंपनी पर कर सकते हैं क्लेम, रिफंड होगा

Rohtak News - रोहतक के इंदिरा कॉलोनी के एडवोकेट राजेश सैनी इन दिनों फास्टैग व्यवस्था को लेकर खासे परेशान हैं। दरअसल उनकी कार...

Feb 11, 2020, 08:40 AM IST
Rohtak News - haryana news if balance is cut without crossing the balance fastag can claim the company refund will be done

रोहतक के इंदिरा कॉलोनी के एडवोकेट राजेश सैनी इन दिनों फास्टैग व्यवस्था को लेकर खासे परेशान हैं। दरअसल उनकी कार पर लगवाए फास्टैग अकाउंट से टोल प्लाजा पार किए बगैर ही पेसे कट रहे हैं। एडवोकेट राजेश सैनी का कहना है कि वो रोहतक शहर में ही थे जब उनके अकाउंट से डाहर टोल पार करने के नाम पर पैसे कटने का मैसेज आया। ऐसी समस्या शहर में कई लोगों ने बताई है। लेकिन उन्हें इस समस्या के समाधान को लेकर कहीं से मदद नहीं मिल रही। जिस कंपनी अकाउंट के जरिए उन्होंने फास्टैग लगवाया है वहां ऐसी समस्या के लिए जारी हेल्पलाइन नंबर पर कोई मदद नहीं मिल रही। ऐसे ही मामलों को लेकर टोल प्रबंधन ने स्पष्ट किया है कि अगर बिना टोल प्लाजा क्रॉस किए आपके फास्टैग अकाउंट से पैसा कट रहा है तो आप टैग देने वाली संबंधित कंपनी पर क्लेम कर सकते हैं। इसके लिए यूजर को तुरंत एनएचएआई के टोल फ्री नंबर पर शिकायत करनी होगी। इसके बाद बिना टोल से गुजरे यूजर के कटे पैसों की जांच होगी। इसके बाद अगर बिना टोल क्रॉस किए पैसा कटा है तो वह यूजर के अकाउंट में वापस आएगा।

फास्टैग को जेब में रख अगर कैश लेन से गुजरे तो भी स्कैनर काट देगा पैसे

मकड़ौली टोल प्लाजा के अधिकारियों ने बताया कि जनवरी माह में कैश लेन से 10 ऐसे मामले सामने आए जहां कैश लेने से भी गुजरने वालों को दोगुना टोल देना पड़ा। दरअसल इन वाहनों के मालिकों ने अपनी गाड़ी से फास्टैग को हटा अपनी जेब या डेशबोर्ड में रख रखा था, लेकिन कैश लेन में भी लगाए स्केनर ने उनके फास्टैग को स्कैन कर लिया और उनके अकाउंट से पैसे कट गए। कैश लेन में वाहन मालिकों ने भुगतान अलग से किया था। टोल प्रबंधन का कहना है कि कैश लेन में भी हाई सेंस्टिव लेवल का स्कैनर लगाया गया है। अधिकारियों के अनुसार अगर वाहन चालक अपना फास्टैग अपने जेब में रख कर किसी दूसरे वाहन से टोल पार करता है तो जिस वाहन से जा रहा है, उसके साथ जेब में रखे फास्टैग से भी पैसा कट जाएगा। इसलिए टैग को जेब में लेकर न चले अन्यथा वह कटा हुआ पैसा वापस नहीं होगा।

बगैर टोल पार किए कटे हैं फास्टैग अकाउंट से पैसे तो 1033 पर कॉल करें

इस समय फास्टैग यूज करने वाले वाहन मालिकों का पैसा बिना टोल प्लाजा क्रॉस किए कट रहा है। इससे यूजर परेशान है। वहीं संबंधित कंपनी के टोल फ्री नंबर पर फोन नहीं मिलने से वाहन मालिकों की समस्या बढ़ गई है। वहीं टोल कपंनियों का कहना है कि अगर ऐसा हो रहा है तो यूजर को तुंरत एनएचएआई के टाेल फ्री नंबर पर 1033 पर शिकायत करनी चाहिए। इसके बाद एनएचएआई इसकी जांच करेगा।

एनएचएआई से करें शिकायत


ऐसे होगी बिना टोल क्रॉस किए
कटे पैसों की जांच


टोल कंपनी के अधिकारियों ने बताया कि अगर बिना टोल पार किए यूजर का पैसा कट रहा है तो यूजर की ओर से एनएचएआई के टोल फ्री नंबर पर शिकायत दर्ज कराने के बाद एनएचएआई जिस टोल से पैसा कटा है उससे संपर्क करती है। कितने बजे गाड़ी टोल से गुजरी व पैसा कब काटा इसकी सीसीटीवी फुटेज मांगी जाती है। इस आधार पर वाहन टोल से गुजरा है या नहीं इसका पता लगता है और अगर बिना गुजरे पैसा काटा है तो एनएचएआई तुंरत फास्टैग से संबंधित कपंनी से बात करती है और यूजर का पैसा एक सप्ताह के अंदर उसके अकाउंट में भेजा जाता है।

मालिक व गाड़ी रोहतक में थे, फिर भी कट गए 3 टोल पर पैसे

रोहतक के इंदिरा कॉलोनी निवासी एडवोकेट राजेश सैनी ने बताया कि 8 फरवरी को रोहतक के हिसार रोड स्थित अपने कार्यालय में थे। उनकी गाड़ी भी ऑफिस के बाहर थी। दोपहर में करीब 12.30 बजे पानीपत के डाहर के टोल को पार करने पर उनके फास्टैग के अकाउंट से 60 रुपए कटने का मैसेज आया। इसके बाद 9 फरवरी को करीब 3 बजे वो हिसार रोड पर अपनी कार में थे। तभी मकड़ौली टोल से उनके फास्टैग अकाउंट से 90 रुपए कटने का मैसेज मोबाइल पर आया। ऐसा ही वाक्या इसी दिन दोबारा हुआ। राजेश सैनी के अनुसार शाम करीब 7.57 बजे वो भिवानी स्टैंड पर थे। तभी डाहर टोल से 90 रुपए कटने का मैसेज आया। इन्होंने बताया कि जिस कंपनी से फास्टैग लिया है उसका टोल फ्री नंबर भी नहीं मिलता।

X
Rohtak News - haryana news if balance is cut without crossing the balance fastag can claim the company refund will be done

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना