भारतीय न्यायप्रणाली अधिवक्ता के बिना अधूरी

Rohtak News - जिला न्यायालय रोहतक के लिटिगेंट हाल में देश के प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद के जन्म दिवस के अवसर पर...

Dec 04, 2019, 08:32 AM IST
Rohtak News - haryana news indian judicial system incomplete without advocate
जिला न्यायालय रोहतक के लिटिगेंट हाल में देश के प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद के जन्म दिवस के अवसर पर मंगलवार को अधिवक्ता दिवस (एडवोकेट डे) के रूप में मनाया गया। इस अवसर पर सभी अधिवक्तागण ने यह प्रण लिया कि आज तारीख पर तारीख का सिलसिला खत्म होना चाहिए। वरिष्ठ अधिवक्ता राजबीर कश्यप ने बताया कि भारतीय न्यायप्रणाली अधिवक्ता के बिना अधूरी है। एक अधिवक्ता वाद के पक्षकारों को न्याय दिलाने में अहम भूमिका अदा करता है और जिस प्रकार डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने भारतीय राजनीति एवं देश के विकास में महत्वपूर्ण योगदान दिया ठीक उसी तरह एक अधिवक्ता का भी सामाजिक दायित्व है कि उसे देशहित के लिए भी आगे आना चाहिए। अधिवक्ता समाज का दर्पण होता है।

स्वतंत्रता आंदोलन से राजनीतिक व सामाजिक क्षेत्र में अधिवक्ता का योगदान अहम

वरिष्ठ अधिवक्ता राजबीर कश्यप ने कहा कि स्वतंत्रता आंदोलन से लेकर राजनीतिक व सामाजिक क्षेत्र में अधिवक्ता का अहम योगदान रहा है। अपनी विलक्षण प्रतिभा व सामाजिक दायित्व की भावना से अधिवक्ता वर्ग प्रत्येक परिस्थिति को अनुकूल बनाकर उनका समाधान करने का महत्वपूर्ण कार्य करते हैं जिसके लिये उन्हें समाज से सम्मान और ख्याति प्राप्त होती है। विधि व्यवसाय का समाज में बहुत महत्वपूर्ण स्थान है जिसका कोई विकल्प नहीं है। वरिष्ठ अधिवक्ता राजबीर कश्यप, तेजबीर कुंडु, पृथ्वी सिंह रोहिल्ला, अतर सिंह रोहिला, रणबीर सिंह खरब, रमेश चंद्र कवात्रा, रमेश बैनीवाल उपस्थित रहे ।

X
Rohtak News - haryana news indian judicial system incomplete without advocate
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना