• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • Rohtak News haryana news pgt contracted supervisor on call for 1 thousand methi kit for giving birth miscarriage caught selling pills in parking lot

पीजीअाई में ठेके पर लगी सुपरवाइजर ऑन कॉल 1 हजार में देतीथी गर्भ गिराने की एमटीपी किट, पार्किंग में गोलियां बेचते पकड़ी

Rohtak News - पीजीआई के जिस लेबर विभाग के जिम्मे मासूम जिंदगियों को सकुशल इस धरती पर लाने की जिम्मेदारी है, वहीं पर कार्यरत एक...

Feb 22, 2020, 08:41 AM IST
Rohtak News - haryana news pgt contracted supervisor on call for 1 thousand methi kit for giving birth miscarriage caught selling pills in parking lot

पीजीआई के जिस लेबर विभाग के जिम्मे मासूम जिंदगियों को सकुशल इस धरती पर लाने की जिम्मेदारी है, वहीं पर कार्यरत एक आउटसोर्सिंग कर्मचारी कोख की हत्यारिन निकली। यहां आउटसोर्सिंग पर कार्यरत महिला सुपरवाइजर अवैध तरीके से पीजीआई पार्किंग में ही एमटीपी किट 1 हजार रुपए में बेचते पकड़ी गई। आरोपी महिला कर्मचारी ऑन कॉल किट उपलब्ध करवा दिया करती थी। इस बात की भनक जब झज्जर सिविल सर्जन को लगी तो उन्होंने डिप्टी सीएमओ डॉ. अचल त्रिपाठी और मेडिकल अफसर डॉ. ममता वर्मा को सुपरवाइजर को पकड़ने की जिम्मेदारी दी। तीन दिन से चल रहे प्रयास के बाद शुक्रवार को लेबर रूम वार्ड नंबर 2 की पार्किंग के बाहर झज्जर व रोहतक सिविल सर्जन व ड्रग कंट्रोलर अधिकारी की ज्वाइंट टीम ने दबिश देकर रंगे हाथ पकड़ने में सफलता हासिल की। पार्किंग में गर्भवती महिला से एक हजार रुपए लेकर सुपरवाइजर ने जैसे ही एमटीपी किट की गोलियां पकड़ाईं तो टीम ने इशारा मिलते ही उसे पकड़ लिया। महिला सुपरवाइजर की गिरफ्तारी की खबर मिलने के बाद मौके पर बड़ी संख्या में आउटसाेर्सिंग के कर्मचारी टीम का घेराव करने के लिए जुट गए। पीजीआई थाना पुलिस मौके पर पहुंचकर आरोपी महिला को हिरासत में लेकर थाने में ले आई। टीम की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी महिला के खिलाफ एमटीपी किट की सप्लाई करने और धोखाधड़ी करने के जुर्म में केस दर्ज कर लिया है। अब यह भी पता लगाया जाएगा कि इसमें और कर्मचारी तो शामिल नहीं।

दिल्ली से 150 रुपए में आती थी, यहां 850 रुपए कमाती थी मुनाफा: ज्वाइंट एक्शन टीम के सदस्यों ने बताया कि पूछताछ में पता चला है कि दिल्ली से 150 रुपए में एमटीपी किट आती है। वो यहां पर महिलाओं को ऑन कॉल पर एक हजार रुपए लेकर किट उपलब्ध कराती थी। पीजीआई के लेबर रूम और गायनी ओपीडी में आने वाली महिलाओं से संपर्क साधकर उन्हें चोरी छिपे भी किट दिया करती। टीम के अधिकारियों ने दावा किया है कि महिला सुपरवाइजर रेखा के पास बरामद तीन एमटीपी किट सरकारी सप्लाई की नहीं पाई गई। ये दिल्ली जैसे शहरों से लाई जानी प्रतीत होती है। फिलहाल पुलिस आरोपी महिला के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई करेगी।


यही हैं वो गोलियां, जो छीन लेती हैं जन्म लेने से पहले ही मासूम जान

झज्जर की मेडिकल अफसर ने खुद फर्जी गर्भवती बन आराेपी सुपरवाइजर से खरीदी एमटीपी किट

बैग से भी मिली दो एमटीपी किट: महिला चिकित्सकों की टीम ने आरोपी सुपरवाइजर के हैंडबैग की तलाशी ली। इसमें उसके पास दो और एमटीपी किट बरामद हुई। शाम चार बजे तक चली कार्रवाई के बाद पुलिस ने आरोपी महिला के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। ज्वाइंट एक्शन टीम में झज्जर से डिप्टी सीएमओ डॉ. अचल त्रिपाठी, मेडिकल अफसर डॉ. ममता वर्मा, डीसीओ संदीप हुड्‌डा, रोहतक टीम से डिप्टी सीएमओ डॉ. रमनजीत व ड्रग कंट्रोलर अधिकारी मनदीप मान का अहम रोल रहा।

आरोपी बोली- एक बड़ी गोली अभी लेना, चार गोलियां 2 दिन बाद : सिविल सर्जन झज्जर को सूचना मिली कि पीजीआई के लेबर रूम में आउटसोर्सिंग में कार्यरत महिला सुपरवाइजर रेखा बल्हारा गर्भवती महिलाओं को एक हजार रुपए में अवैध तरीके से एमटीपी किट उपलब्ध कराती है। झज्जर की डिप्टी सीएमओ डॉ. अचल त्रिपाठी व मेडिकल अफसर ममता वर्मा की अगुवाई में कार्रवाई के लिए झज्जर सिविल सर्जन ने प्लानिंग बनाने को कहा। दोनों महिला अधिकारियों ने एक गर्भवती महिला के माध्यम से सुपरवाइजर रेखा बल्हारा से संपर्क किया। सुपरवाइजर रेखा ने गर्भवती महिला को किट देने के लिए शुक्रवार दोपहर डेढ़ बजे पीजीआई के वार्ड नंबर दो लेबर रूम की पार्किंग में बुलाया। यहां पर मेडिकल अफसर डॉ. ममता वर्मा फर्जी गर्भवती महिला की भूमिका में सुपरवाइजर के पास पहुंची। फर्जी ग्राहक डॉ. ममता ने सुपरवाइजर रेखा को पांच-पांच सौ रुपए के दो नोट दिए। आरोपी रेखा ने ग्राहक से रुपए लेने के बाद एमटीपी किट जिसमें एक बड़ी गोली व चार छोटी गोली दी और बोली कि एक बड़ी वाली अभी लेनी है और चार गोलियां 48 घंटे बाद दो-दो लेनी है। गोली लेने के बाद फर्जी ग्राहक बनी डॉ. ममता ने टीम को इशारा कर दिया। इशारा मिलते ही रोहतक और झज्जर सिविल सर्जन कार्यालय की ज्वाइंट एक्शन टीम ने फौरन मौके पर से ही महिला सुपरवाइजर रेखा बल्हारा को गिरफ्तार कर लिया।

पीजीआई में कार्रवाई करती मेडिकल टीम।

Rohtak News - haryana news pgt contracted supervisor on call for 1 thousand methi kit for giving birth miscarriage caught selling pills in parking lot
X
Rohtak News - haryana news pgt contracted supervisor on call for 1 thousand methi kit for giving birth miscarriage caught selling pills in parking lot
Rohtak News - haryana news pgt contracted supervisor on call for 1 thousand methi kit for giving birth miscarriage caught selling pills in parking lot

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना