पीपीएफ धारक को अब 1 फीसदी ब्याज दर पर लोन की मिलेगी सुविधा

Rohtak News - पब्लिक प्रोविडेंट फंड स्कीम 1968 के नियमों को खत्म करते हुए अब सरकार ने देश भर के खाताधारकों के लिए पीपीएफ स्कीम 2019...

Jan 16, 2020, 08:36 AM IST
Rohtak News - haryana news ppf holder will now get facility of loan at 1 interest rate
पब्लिक प्रोविडेंट फंड स्कीम 1968 के नियमों को खत्म करते हुए अब सरकार ने देश भर के खाताधारकों के लिए पीपीएफ स्कीम 2019 में शामिल नए नियमों को लागू कर दिया है। इसके तहत देश भर के पीएफ खाता धारकों को बड़ी राहत मिलने की उम्मीद है। जीएसटी की पब्लिक रिलेशन कमेटी के सदस्य व चार्टर्ड अकाउंटेंट संजय थारेजा ने नए नियम अमल में जानकारी देते हुए कहा कि पीपीएफ खाते की राशि किसी भी आदेश के तहत चाहे वो अदालत का हो या किसी प्रकार के लोन का हो या खाताधारक की कोई देयता के तहत कुर्की के लिए उत्तरदायी नहीं होगी।

नए नियम के अनुसार व्यक्ति अपने पीपीएफ खाते के तीन वर्ष पूरे होने के बाद लोन की सुविधा ले सकता है। ये लोन अधिकतम खाता शुरू होने के छह वर्ष तक ले सकते हैं। पहले इस लोन की राशि पर दो फीसदी ब्याज दर देना होता था, लेकिन अब एक फीसदी ब्याज दर की राशि से लोन की सुविधा मिलेगी। लोन की राशि का भुगतान खाताधारक को 36 वर्षों में करना होगा। सीए संजय थारेजा ने बताया कि पीपीएफ से लिए गए लोन की राशि पर खाताधारक को पीपीएफ के तहत ब्याज नहीं मिलेगा। पीपीएफ का खाताधारक 15 वर्ष की समाप्ति होने पर अपने इस खाते को अगले पांच वर्षों के लिए चालू रख सकता है और उसमें निवेश भी कर सकता है। पीपीएफ का खाताधारक अपने खाते के पांच वर्ष पूरे होने के बाद किसी भी समय अमाउंट को निकाल सकता है। खाताधारक अपने चौथे वर्ष तक की निवेश की राशि का ज्यादा से ज्यादा 50 फीसदी निकाल सकेगा।

संजय थारेजा

नाबालिग का भी खुल सकेगा पीपीएफ खाता

सीए संजय थारेजा ने बताया कि नए नियमों के तहत अब कोई भी व्यक्ति फार्म नंबर एक भरकर अपना या अपने नाबालिग बच्चे का पीपीएफ खाता शुरू कर सकता है और कोई व्यक्ति यदि अनसाउंड माइंड का है ताे उसके आधार पर खाता खोला जा सकता है। केवल एक ही खाता नाबालिग व्यक्ति या अनसाउंड माइंड के व्यक्ति का खोला जा सकता है। उन्होंने बताया कि ज्वाइंट पीपीएफ अकाउंट खोलने की सुविधा अभी नहीं दी गई है। पीपीएफ खाते में प्रति वर्ष कम से कम पांच सौ रुपए और अधिकतम डेढ़ लाख रुपए ही जमा किए जा सकते हैं। अधिकतम राशि का अभिप्राय खाताधारक के स्वयं व नाबालिग के खाते को मिलाकर डेढ़ लाख रुपए है। खाताधारक को पांच सौ रुपए प्रति वर्ष खाने में अनिवार्य तौर पर जमा करने होंगे। ऐसा न करने पर व्यक्ति का खाता निष्क्रिय कर दिया जाएगा।

रेजीडेंशियल स्टेटस बदलने पर प्री मैच्योर पीएफ खाता बंद होगा

पीपीएफ का खाता प्री मैच्योर की स्थिति में तब ही बंद होगा जब या तो व्यक्ति का रेजीडेंशियल स्टेट्स बदल जाए जैसे कि रेजीडेंट टू एनआरआई या फिर आपको डिपेंडेंट बच्चे की आगे की एजुकेशन के लिए फंड की जरूरत हो। इस शर्त के लिए खाताधारक को अपनी इनकम टैक्स की रिटर्न, पासपोर्ट की कापी व बच्चे की फीस की रसीद देनी होगी और खाताधारक को एक फीसदी से कम ब्याज दर मिलेगा। पीपीएफ को प्री मैच्योर बंद पांच वर्षों के पूरे होने के बाद ही किया जा सकता है।

Rohtak News - haryana news ppf holder will now get facility of loan at 1 interest rate
X
Rohtak News - haryana news ppf holder will now get facility of loan at 1 interest rate
Rohtak News - haryana news ppf holder will now get facility of loan at 1 interest rate
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना