हुड्डा पर दुष्यंत का पलटवार / 28 साल के युवा ने उनकी 28 साल की राजनीति पर फुल स्टॉप लगा दिया

दुष्यंत चौटाला। (फाइल) दुष्यंत चौटाला। (फाइल)
X
दुष्यंत चौटाला। (फाइल)दुष्यंत चौटाला। (फाइल)

  • रोहतक में दुष्यंत चौटाला ने की प्रेसवार्ता, रोहतक जिलाध्यक्ष का इस्तीफा हुआ मंजूर

Jun 22, 2019, 07:54 PM IST

रोहतक। भूपेंद्र सिंह हुड्डा द्वारा इनेलो और जजपा पर दिए बयान पर दुष्यंत चौटाला ने पलटवार किया है। दुष्यंत ने कहा कि इनेलो तो खत्म हो गई है लेकिन एक 28 साल के युवा ने हुड्डा की 28 साल की राजनीति पर फुल स्टॉप लगा दिया। वे सपने लेते थे कि मैं सोनीपत वाया दिल्ली से चंडीगढ़ जाऊंगा, उनकी इस राजनीति पर फुल स्टॉप लगा दिया। दरअसल पूर्व सीएम हुड्डा ने बयान दिया था कि इनेलो खत्म हो चुकी है जबकि जजपा पहले ही खत्म है। शनिवार को दुष्यंत रोहतक में प्रेसवार्ता के दौरान बोल रहे थे। 
 

दुष्यंत बोले मजबूरीवश दिया रोहतक जिलाध्यक्ष ने इस्तीफा

दुष्यंत चौटाला ने रोहतक जजपा जिलाध्यक्ष द्वारा दिए गए इस्तीफे पर बयान दिया कि मजबूरीवश रोहतक जिलाध्यक्ष ने इस्तीफा दिया था। उनके इस्तीफे को अजय चौटाला ने मंजूर भी कर लिया है। जब तक कोई एक्टिव जिलाध्यक्ष नहीं आएगा तब तक बलवान सुहाग कार्यकारी जिलाध्यक्ष रहेंगे। 

पार्टी में कार्यकर्ताओं के छोड़कर जाने पर दुष्यंत ने कहा कि राजनीति में लोग आते-जाते रहते हैं। चौधरी देवीलाल के 9 रत्न में से 2 रह गए थे। उन्होंने राजनीति करना थोड़ा छोड़ दिया था। हम 6 महीने में इस मुकाम तक पहुंचे हैं। आने वाले 100 दिनों में नई सोच के लोगों को साथ जोड़ेंगे जो पद के लिए नहीं परिवर्तन चाहते हैं। विधानसभा में 90 सीटों पर मजबूती से चुनाव लड़ेंगे। आप के साथ गठबंधन पर दुष्यंत ने कहा कि गठबंधन बरकरार है। आप के चाहे जितने भी कार्यकर्ता हों उन्होंने लोकसभा चुनाव में पूरा साथ दिया। हरी चुनरी चौपाल पर उन्होंने कहा कि 1 जुलाई से हरी चुनरी चौपाल शुरू होगी। 

भाजपा की लोकसभा चुनाव में जीत पर दुष्यंत चौटाला ने कहा कि सुनामी आई थी। जिसमें लोगों ने राहुल गांधी और मोदी के चेहरे को देखकर वोट किया था। जबकि विधानसभा चुनाव में ऐसा नहीं होगा। बीजेपी यह समझती है कि उनकी लहर थी। लेकिन यह समुंद्र की लहर की तरह है, जो जब वापिस जाती है तो इतना ही नुकसान भी करके जाती है। 

दुष्यंत ने योग को भाजपा का एजेंडा बताया। उन्होंने कहा कि भाजपा योग को एजेंडे की तरह प्रचारित कर रही है। चीजों के विस्तार को इग्नोर किया जा रहा है। लोकसभा चुनाव में आर्म फोर्स पर चुनाव लड़ा गया। किसानों को चुनाव के दौरान 2 हजार तो दिए लेकिन फिर उसकी जेब से निकाल लिया गया। भाजपा ने डीएपी के रेट 220 रुपए कर दिए। 

भाजपा के निष्पक्ष रोजगार के मुद्दे पर दुष्यंत ने कहा कि देश के इतिहास में पहली बार जुडीशियल भर्ती का पेपर भाजपा राज में लीक हुआ। नायब तहसीलदार का पेपर लीक हुआ लेकिन इसके बाद भी रिजल्ट घोषित कर दिया गया। सरकार 60 हजार नौकरी देने की बात करती है लेकिन आरटीआई में अप्रैल 2019 तक महज 37 हजार सरकारी नौकरी की बात स्पष्ट हुई है। प्रदेश सरकार ने युवाओं के साथ धोखा किया है।
 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना