पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

एसबीआई के कैशियर पर लाखों के गबन का आरोप, पुलिस ने दबिश दी, सदमे में मां ने फंदा लगा जान दी

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

रोहतक के जिंदराण गांव में 65 साल की महिला ने शनिवार को फंदा लगाकर जान दे दी। मृतका रामरती का शव घर के कमरे में पंखे के हुक पर लगाए फंदे पर लटका मिला। परिजनों के अनुसार रामरती अपने बेटे सुभाष के खिलाफ बैंक में घपला करने का केस दर्ज होने के बाद से सदमे में थी। सुभाष स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) में कैशियर है। उसके खिलाफ रोहतक आईएमटी थाने में भालौठ के ग्रामीणों की शिकायत पर केस दर्ज हुआ है।

ग्रामीणों का आरोप है कि सुभाष ने उनसे पैसे लेकर उनके बैंक अकाउंट में जमा नहीं कराए। बैंक काउंटर पर कैश लेने के बाद वो सिस्टम खराब होने की बात कहकर ग्रामीणों को बाद में एंट्री अपडेट करने का आश्वासन देकर टरका देता था। सूचना के अनुसार, अब तक की जांच में 28 लाख रुपए के गबन का मामला सामने आ चुका है। सुभाष फिलहाल फरार है। उधर, रामरती के परिजनों का कहना है कि सुभाष की तलाश में 3 दिन पहले पुलिस ने दबिश दी थी। इसके बाद से रामरती अपने को सामाजिक तौर पर अपमानित महसूस करने लगी थी। मृतका के पति रामकुमार का कहना है कि उसकी प|ी ने तीन दिन से घर से बाहर निकलना बंद कर रखा था। वो किसी से बात भी नहीं कर रही थी। पुलिस ने रामकुमार के बयान दर्ज कर लिए हैं।

खबरें और भी हैं...