पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

डॉ. गठवाला के घर पर तोड़फोड़ मामले में अाराेपी डाॅक्टराें काे पुलिस ने किया तलब

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पीजीआई के हाॅस्टल में 13 जून की रात डाॅ. ओमकार के सुसाइड के बाद भड़के स्टूडेंट्स ने एचओडी डॉ. गीता गठवाला के सरकारी आवास पर तोड़फोड़ की थी। यह आरोप लगाते हुए पूरी घटना के वीडियो फुटेज व फोटो सहित अन्य सबूत डॉ. गीता गठवाला ने पीजीआई थाना पुलिस को सौंपकर आरोपियों पर कार्रवाई किए जाने की मांग की थी। घटना के दो माह बाद पीजीआई थाना पुलिस सक्रिय हुई और डॉ. गीता की ओर से कराई गई एफआईआर में नामजद सीनियर रेजीडेंट डॉक्टरों को बयान दर्ज कराने के लिए तलब किया गया है। बुधवार शाम को रेजीडेंट डॉक्टर एकत्रित होकर हेल्थ यूनिवर्सिटी के वीसी डॉ. ओपी कालरा के आफिस में पहुंचे। वीसी के समक्ष डॉक्टरों ने पुलिस की ओर से बयान दर्ज कराने के लिए बनाए जा रहे दबाव के प्रति नाराजगी जाहिर की। इस पर वीसी व रजिस्ट्रार ने कहा कि पुलिस की ओर से जांच प्रक्रिया चल रही है, उसमें चिकित्सकों को सहयोग करना होगा। वहीं, पुलिस प्रशासन की ओर से बुधवार शाम तक चार रेजीडेंट डाॅक्टरों के बयान दर्ज किए जाने का दावा किया गया है।

डॉ. गीता गठवाला के आवास पर तोड़फोड़ किए जाने के प्रकरण की जांच चल रही है। नामजद रेजीडेंट चिकित्सकों को बयान दर्ज कराने के लिए बुलाया जा रहा है। जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। - अनिल कुमार, एसएचओ, पीजीआई थाना।

खबरें और भी हैं...