रुटीन फ्रंट पेज के शेष

Rohtak News - हनीट्रैप: मुखौटा थी महिला, दुबई में बैठा जासूस लेता था फौजी से जानकारी... पता नहीं चला कि मेरी बात किसी विदेशी से...

Jul 14, 2019, 08:35 AM IST
हनीट्रैप: मुखौटा थी महिला, दुबई में बैठा जासूस लेता था फौजी से जानकारी...

पता नहीं चला कि मेरी बात किसी विदेशी से होती है: आरोपी फौजी : पेशी पर कोर्ट पहुंचे महेंद्रगढ़ के फौजी रविंद्र ने कहा कि उस महिला से हालचाल पूछने तक बात सीमित रहती थी। बातचीत से लगा कि वह सैन्य मामले की खासी समझ रखती है। रविंद्र के अनुसार उसने कभी सेना से जुड़ा कोई बड़ा रहस्य उसे नहीं बताया। अनिका चौधरी नामक वह लड़की अपने आपको गुजरात की बताती थी, उसके जिस नंबर से कॉल आती थी, उसमें 91 से नंबर लिखा आता था, इससे उसे कभी नहीं पता चला कि इंडिया से बाहर भी उसकी कॉल जा रही है। अब पुलिस बता रही है कि मैंने किसी विदेशी से संपर्क रखा था। सूत्र बताते हैं कि खुफिया विभाग व सेना के अधिकारी पिछले 3 दिनों से गुप्त तरीके से मामले की पड़ताल में जुटे हैं। सूत्र यह भी बताते हैं कि सबसे पहले रविंद्र और उसकी महिला मित्र से संवाद का खुलासा भी आईबी की ओर से किया गया। इसका मुख्य आधार रविंद्र के खाते में जमा हुई 5 हजार की रकम से बना। उसके बाद से लगातार आईबी की टीम रविंद्र का पीछा कर रही थी। उसके संकेत पर ही पुलिस ने आरोपी को पकड़ा।

सोमवार को सेना के हवाले होने की संभावना : शनिवार को पुलिस रिमांड खत्म होने के बाद सुबह साढ़े 11 बजे ड्यूटी मजिस्ट्रेट अनिल कुमार की अदालत में रविंद्र को पुलिस पेश करने लाई। उसकी ओर से पेश हुए एडवोकेट ईश्वर सिंह जाखड़ का कहना था कि रिमांड की अवधि के दौरान उसके मुवक्किल ने पूरा सहयोग दिया। पुलिस बैंक खाते की पड़ताल भी कर चुकी है। इसके बाद अदालत ने उसे दो दिन की न्यायिक हिरासत में भेजने के आदेश दिए। बताया जाता है कि नअब आरोपी को सोमवार को सीजेएम की अदालत में पेश किया जाएगा। सूत्र बताते हैं कि पुलिस के बाद अब सेना भी आरोपी से पूछताछ की तैयारी में है। इस संबंध में शुक्रवार को अलवर से सेना के कुछ अधिकारी नारनौल पहुंचे थे। सोमवार को वे आरोपी को अपनी हिरासत में लेने के लिए कार्रवाई करेंगे। इसके लिए उनकी ओर से निवेदन किया जा चुका है।

होटल में चैन से रहने के लिए लॉ स्टूडेंट ने गढ़ी अपहरण की कहानी, िपता से मांगे 5 करोड़ रुपए...

उज्ज्वल ने कहा कि उसे यह भी पता था कि उसे छुड़ाने के लिए कोई पांच करोड़ किसी को नहीं देगा। वह चार दिन बाद घर लौट जाता। घर पहुंचकर कह देता कि वह आरोपियों से चंगुल से खुद को छुड़वाकर भाग आया। पुलिस ने आरोपी और उसके सोनीपत निवासी दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है। गाड़ी भी बरामद कर ली है।

साइबर सेल की मदद से पकड़ा गया : पुलिस ने साइबर सेल की मदद ली। फोन की शुरुआती लोकेशन राठधाना रोड की मिली। इसके बाद जांच में आईजी रोहतक रेंज संदीप खिरवार, एसपी सोनीपत प्रतीक्षा गोदरा भी जुड़ गईं। रात करीब साढ़े 10 बजे गुड़गांव के होटल में साईआईए-वन प्रभारी नरेंद्र पाल व उनकी टीम में शामिल रमेश ने उज्ज्वल को होटल से सकुशल बरामद किया। जांच में पलवल, गुरुग्राम, एसटीएफ, सिटी थाना, सीआईए-1 की टीम शामिल रही।

प्रगतिशील किसान का पाेता है आरोपी छात्र : उज्ज्वल प्रगतिशील किसान रामेश डागर का पाेता है। डागर ने सोनीपत में आधुनिक खेती का चलन शुरू किया था। इनके पास काफी जमीन है, जबकि छात्र के पिता मुकेश खेती के साथ प्राॅपर्टी डीलिंग करते हैं।

आज रात चांद छूने निकलेगा भारत...

चंद्रयान-1 में 35 किलोग्राम का एक मून इंपैक्ट प्रोब था, जिसे चांद के करीब पहुंचने के बाद छोड़ दिया गया और उसकी क्रेश लैंडिंग हुई। लेकिन, चंद्रयान-2 में नियंत्रित सॉफ्ट लैंडिंग होगी। चांद की सतह पर रोवर बनाता जाएगा तिरंगे की छाप और इसरो का लोगो : रोवर को लैंडर से बाहर चंद्रमा की सतह पर आने में चार घंटे लगेंगे। इसके बाद वह सतह पर आगे बढ़ता जाएगा। इसरो के वैज्ञानिकों का कहना है कि रोवर जब आगे बढ़ेगा तो वह चांद की सतह पर तिरंगे और इसरो के लोगो का निशान छोड़ता जाएगा, ठीक वैसे ही जैसे किसी कच्ची जमीन पर गाड़ी के गुजरने के बाद पहिए से छाप बन जाती है। पहियों को इसी हिसाब से डिजाइन किया गया है।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना