• Hindi News
  • Haryana
  • Rohtak
  • Rohtak News haryana news when the station superintendents started to test the facilities for the divyang who came to submit the memo the jugaad lock found on the toilet opened the plas by itself

ज्ञापन देने आए दिव्यांगों को स्टेशन अधीक्षक सुविधाएं परखवाने लगे तो शौचालय पर मिला जुगाड़ लॉक, खुद प्लास लाकर खोला

Rohtak News - रोहतक रेलवे स्टेशन पर सेामवार को रैंप व लिफ्ट के निर्माण की मांग को लेकर ज्ञापन देने गए दिव्यांगों को स्टेशन...

Dec 10, 2019, 08:32 AM IST
Rohtak News - haryana news when the station superintendents started to test the facilities for the divyang who came to submit the memo the jugaad lock found on the toilet opened the plas by itself
रोहतक रेलवे स्टेशन पर सेामवार को रैंप व लिफ्ट के निर्माण की मांग को लेकर ज्ञापन देने गए दिव्यांगों को स्टेशन अधीक्षक ने कहा बिना टिकट के प्लेटफार्म पर कैसे आ गए, इसके बार नियमों का हवाला देकर दबाव बनाने लगे। इस पर दिव्यांगों ने हंगामा शुरू कर दिया। इसके बाद अधीक्षक ने कहा कि उनकी मांग को डीआरएम को भेजा जाएगा। यह मेरे बस की बात नहीं है। इतना ही नहीं जब स्टेशन अधीक्षक दिव्यांगों को स्टेशन पर दिव्यांगों के लिए उपलब्ध सुविधाओं की ग्राउंड मॉनिटरिंग कराने लगे तो वहां दिव्यांगों के लिए अधिकृत शौचालय के कुंडे को तारों के जाल से लॉक कर रखा था। झेंपते हुए स्टेशन अधीक्षक खुल कार्यालय जाकर प्लास लाए और तारों को काटकर खोला। इसके बाद उन्होंने दिव्यांगों की समस्याओं पर गंभीरता से विचार करने और उन्हें आ रही परेशानियों के बारे में आला कमान तक पहुंचाने की बात कही। दरअसल रोहतक स्टेशन प्रशासन के अनुसार यहां से रोजाना 140 से अधिक ट्रेनों में 25 हजार के करीब यात्रियों का आवागमन होता है। इनमें दिव्यांग भी रहते है। स्टेशन पर दिव्यांगों की सुविधा के लिए न तो अभी तक रैंप बनाया गया है और न ही घोषणा के एक वर्ष बाद लिफ्ट लगाने की प्रक्रिया शुरू हो पाई। एक प्लेटफार्म से दूसरे पर जाने के लिए दिव्यांगों को सीढिय़ों से चढ़कर जाना होता है। इस कारण इन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

स्टेशन पर दिव्यांगों के लिए न तो रैंप बना और न ही घोषणा के एक वर्ष बाद लिफ्ट का निर्माण शुरू हुआ

शाैचालय पर ताराें काे प्लास से काटते स्टेशन अधीक्षक यशपाल मीणा।

परेशान दिव्यांगों ने जताया आक्रोश

सोमवार को जिले के दिव्यांगों ने रैंप और लिफ्ट की मांग को लेकर अधीक्षक को ज्ञापन देने दोपहर करीब एक बजे पहुंचे। अधीक्षक ने दिव्यांगों से कहा कि जो बना है उसी से काम चलाओ और रैंप का निर्माण कराना मेरे बस की बात नहीं है। इस पर गुस्साए दिव्यांगों ने हंमागा शुरू कर दिया, इसे देख अधीक्षक ने कहा कि हम इस मांग को डीआरएम को भेजेंगे।

स्टेशन अधीक्षक यशपाल मीणा काे ज्ञापन सौंपते विकलांग अधिकार मंच के सदस्य।

दिव्यांगाेंे ने अधीक्षक से कहा- कितने हैं व्हील चेयर, उन्होंने कहा पांच से अधिक, मौके पर एक ही मिला

ज्ञापन देने आए दिव्यांगाें से अधीक्षक स्टेशन पर सभी सुविधा होने का दावा करने लगे। जब दिव्यांगाें ने कहा स्टेशन पर व्हीलचेयर नहीं दिखाती ताे इन्होंने कहा कि पांच से अधिक है, जब दिव्यांगाें ने कहा कि दिखाओ ताे अधीक्षक उन्हें दिखाने ले गए और मौैके पर केवल एक ही व्हीलचेयर मिली।

स्टेशन मास्टर काे विकलांगाें के लिए बनाए सहायता बूथ पर नहीं बैठा काेई कर्मचारी काे दिखाते हुए दिव्यांग।

अधीक्षक ने नियमों का हवाला दे दबाव बनाया


लिफ्ट बनने की योजना है, जानकारी नहीं


Rohtak News - haryana news when the station superintendents started to test the facilities for the divyang who came to submit the memo the jugaad lock found on the toilet opened the plas by itself
Rohtak News - haryana news when the station superintendents started to test the facilities for the divyang who came to submit the memo the jugaad lock found on the toilet opened the plas by itself
X
Rohtak News - haryana news when the station superintendents started to test the facilities for the divyang who came to submit the memo the jugaad lock found on the toilet opened the plas by itself
Rohtak News - haryana news when the station superintendents started to test the facilities for the divyang who came to submit the memo the jugaad lock found on the toilet opened the plas by itself
Rohtak News - haryana news when the station superintendents started to test the facilities for the divyang who came to submit the memo the jugaad lock found on the toilet opened the plas by itself
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना