• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • Maham News haryana news who said india reduced the risk by early lockdown now the infection can be controlled only by keeping it limited to hotspots

डब्ल्यूएचआे ने कहा- भारत ने जल्दी लॉकडाउन कर खतरा कम किया, अब संक्रमण सिर्फ हॉटस्पॉट तक सीमित रख जल्द काबू पा सकता है

Rohtak News - काेराेनावायरस के खिलाफ भारत ने निर्भीक हाेकर कदम उठाए हैं। भारत ने जिस तेजी के साथ इस संक्रमण काे राेकने के लिए...

Apr 03, 2020, 08:06 AM IST

काेराेनावायरस के खिलाफ भारत ने निर्भीक हाेकर कदम उठाए हैं। भारत ने जिस तेजी के साथ इस संक्रमण काे राेकने के लिए प्रतिबद्धता जताई है, वह काबिले तारीफ है। यह बात डब्ल्यूएचअाे में काेविड 19 के दूत डाॅ. डेविड नबाराे ने एनडीटीवी काे दिए साक्षात्कार में कही। उन्हाेंने कहा कि भारत ने जल्दी लॉकडाउन कर खतरा कम कर दिया है। अमेरिका और इटली उदाहरण हैं कि फैसले में देरी के क्या नतीजे हो सकते हैं।

यह समय अदृश्य दुश्मन के खिलाफ एक-दूसरे की मदद करने का है

{भारत द्वारा उठाए गए कदम अापकाे पर्याप्त लगते हैं?

यह एेसी बीमारी है, जिसमें हम जितने जल्द कदम उठाएंगे, उतनी ही तेजी कामयाब हाे सकते हैं। हम यूं ही किसी की प्रशंसा नहीं करते। भारत ने पहले भी कई एेसे उदाहरण पेश किए हैं। जिस तेजी के साथ सूचना अाैर पंचायत स्तर तक सरकार ने अपनी पहुंच स्थापित की है, उससे कहा जा सकता है कि भारत ने गंभीरता के साथ कदम उठाए हैं। वायरस पर काबू पाने में अन्य देशों की तुलना में भारत की संभावनाएं बेहतर हैं। दूसरे देशों ने बिना योजना के देरी से कदम उठाए, क्योंकि उन्हें लगा कि यह बड़ी समस्या नहीं है। लेकिन, भारत ने जल्द और मजबूत कदम उठाए हैं।

{21 दिन का लाॅकडाउन पर्याप्त है या इसे बढ़ाना चाहिए?

इस पर फैसला सरकार काे करना है। मैं ये बताना चाहूंगा कि सरकार डेटा के अाधार पर अाकलन कर सकती है कि हाॅटस्पाॅट कहां हैं। फिर वह अन्य क्षेत्राें को खोलकर लाॅकडाउन सिर्फ हॉटस्पॉट तक सीमित रख अच्छे से नियंत्रण कर सकता है। वायरस काे राेकने के लिए सरकार जाे भी कदम उठाए, उसका पालन किया जाना चाहिए।

{चीन द्वारा की गई देरी काे लेकर अाप क्या कहेंगे?

जब इतिहास लिखा जाएगा ताे सारी सच्चाई सामने आ जाएगी। हम इसे महामारी का रूप देने के लिए कितनी तेजी से अागे बढ़े हैं, इसके अाधार पर अाकलन हाेगा। एक समय एेसा भी अाएगा, जब हम तय करेंगे कि यह सब कैसे शुरू हुअा अाैर काैन इसके लिए जवाबदेह था। अभी हमें अाराेप-प्रत्याराेप से बचते हुए इस अदृश्य दुश्मन के खिलाफ एक-दूसरे की हरसंभव मदद करनी चाहिए।

लॉकडाउन से माैतें 50% रोकने में मदद: डाॅ. शेट्टी

बेंगलुरू | कार्डियक सर्जन देवी प्रसाद शेट्टी ने कहा है कि देश में माैजूदा लाॅकडाउन से माैताें के अांकड़े में कम से कम 50% तक कमी लाने में मदद मिलेगी। उन्हाेंने कहा कि लाॅकडाउन काे सीमित तरीके से अागे बढ़ाना होगा। डाॅ शेट्टी ने कहा कि मेडिकल टर्म में पूरे देश में लाॅकडाउन काे जारी रखने से अब ज्यादा अंतर नहीं पड़ेगा। जरूरत है कि ज्यादा केस वाले इलाकाें में लाॅकडाउन काे सीमित करें अाैर लाेगाें की जांच करें।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना