पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

महिला टी20 वर्ल्डकप का फाइनल आज, मेलबर्न में दुिनया देखेेगी भारत की ‘शक्ति’

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शेफाली
वर्मा


पहली बार टी20 फाइनल में पहुंची भारतीय महिला क्रिकेट टीम आईसीसी ट्रॉफी जीतकर इतिहास रच सकती हैं

कम हाइट के कारण पेसर से स्पिनर बनीं, आज सबसे सफल

आगरा की पूनम ने 8 साल की उम्र से खेलना शुरू किया। तब लोग ताने देते थे। दुखी होकर पिता ने खेलना छुड़वा दिया था। वे बताती हैं, मैं पहले मीडियम पेस बॉलर थीं। लेकिन हाइट कम थी, इसलिए कोच ने कहा लेग स्पिन ट्राय करो, पर यह मुश्किल काम है, इसमें जिगरा चाहिए। यह भी हो सकता है कि तुम न सीख पाओ। लेकिन मैंने भी उसी तरह जवाब दिया- रिस्क लेती हूं लाइफ में और क्या। 5 फीट 1 इंच की पूनम वर्ल्ड कप के 4 मैचों में 9 विकेट ले चुकी हैं। वे टूर्नामेंट की सबसे सफल गेंदबाज हैं।

भाई की जगह खेलने उतरीं, आज नंबर-1 बल्लेबाज

हरियाणा के राेहतक की शेफाली ने भाई के बीमार पड़ जाने पर पहली बार बैट पकड़ा था। उस दिन वह भाई के नाम से मैदान में खेलने उतरी थी। उनकी कहानी दंगल गर्ल जैसी भी है। जब रोहतक की किसी क्रिकेट एकेडमी ने लड़की होने की वजह से एडमिशन नहीं दिया तो पिता संजीव ने बाल कटवा दिए। एक एकेडमी ने लड़का समझकर एडमिशन दे दिया। आईसीसी वुमन टी 20 इंटरनेशनल की लिस्ट में वे दुनिया की नंबर एक बल्लेबाज हैं। सिर्फ 16 साल की शेफाली 18 टी 20 मैचों में 21 छक्के लगा चुकी हैं।

कप्तान को वुमन डे पर बर्थडे गिफ्ट देने की तैयारी में टीम

पंजाब के मोगा की हरमनप्रीत का आज जन्मदिन है और 31 साल की इस खिलाड़ी के माता-पिता पहली बार मैदान पर उसका मैच देखने पहुंचे हैं। वालीबॉल खिलाड़ी रहे हरमंदर सिंह भुल्लर चाहते थे कि बेटी हाॅकी खिलाड़ी बने। वे उसके लिए हॉकी भी लाए। लेकिन हरमनप्रीत उससे क्रिकेट खेलने लगी। मोगा में क्रिकेट अकादमी नहीं थी। इसलिए वह छोटे भाई और दोस्तों के साथ खेलने लगी। 2009 में इतना लंबा सिक्स मारा था कि उनके बैट की जांच भी हुई। हरमन कहती हैं टीम मुझे बर्थडे पर जीत का गिफ्ट देगी।

नई उम्मीद

हरमनप्रीत
कौर


अाज महिला दिवस पर मेलबर्न में टी20 महिला वर्ल्ड कप का फाइनल हो रहा है। मुकाबला मेजबान आॅस्ट्रेलिया की टीम से है। भारत खिताब जीतता है तो पहली बार महिला क्रिकेट को आईसीसी ट्रॉफी मिलेगी। हम फाइनल में भी पहली बार पहुंचे हैं। पूरे देश को भारतीय लड़कियों से उम्मीदें हैं, उनमें कप्तान हरमनप्रीत कौर, बल्लेबाज शेफाली वर्मा और लेग स्पिनर पूनम यादव सबसे खास हैं। **

पूनम
यादव
खबरें और भी हैं...