पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विशेष परिस्थिति छोड़ जेनरिक दवा लिखें डॉक्टर : वीसी

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

पंडित भगवत दयाल शर्मा स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय के लेक्चर थियेटर पांच में जन औषधि दिवस पर कार्यक्रम का अायोजन किया गया। इसमें मुख्यातिथि कुलपति डॉ. ओपी कालरा ने कहा कि आज दूसरा जन औषधि दिवस मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की ओर से शनिवार को जन औषधि दिवस पर जो लोगों से सीधा वार्तालाप कर जन औषधि के बारे में चर्चा की गई। डॉ. कालरा ने कहा कि जन औषधि में दवाइयां सीधी फैक्टरी से आती हैं, जिसके चलते जन औषधि पर मिलने वाली दवाइयां इतनी अधिक सस्ती होती हैं। उन्होंने कहा कि जन औषधि पर जेनरिक दवाइयां मिलती हैं और चिकित्सकों को किसी विशेष परिस्थिति को छोड़ जेनरिक दवाइयां ही लिखनी चाहिए। वीसी ने कहा कि सोशल मीडिया पर वायरल होते झूठे मैसेज से बचें और स्वयं चिकित्सक से न मिलें। डॉ. परमिंद्र वर्मा ने कहा कि इसके बाद प्रधानमंत्री द्वारा दिए जाने वाले व्याख्यान का लाइव प्रसारण सुना गया। निदेशक डॉ. रोहताश यादव ने बताया कि संस्थान का जनऔषधी केंद्र सुबह आठ बजे से शाम आठ बजे तक खुला रहता है। इस अवसर पर कुलसचिव डॉ. एचके अग्रवाल, चीफ फार्मासिस्ट इंदू, सुरेंद्र जाखड़, सुरेश कुमार,पुष्पेंद्र मलिक, सुरेंद्र सिंह, पूजा पूनिया, सीमा हुड्डा, पूजा रोहिल्ला, पार्थ सैनी, जितेंद्र सिंह आदि सैकड़ों विद्यार्थी उपस्थित थे।

जागरूक करेगा विश्व आयुर्वेद परिषद

रोहतक | विश्व आयुर्वेद परिषद रोहतक शाखा की एक बैठक शनिवार को डॉ. सुनीता जाखड़ की अध्यक्षता में की गई। इसमें कोरोना वायरस से लड़ने तथा लोगों को जागरूक करने के लिए डॉक्टरों ने विचार-मंथन किया। इस अवसर पर डॉक्टरों को कोरोना वायरस से लड़ने तथा आम जनता को जागरूक करने का आह्वान भी किया गया। बैठक में डॉ. सुशील आर्य, डॉ. प्रवेश शर्मा, डॉ. प्रिंस गिरोत्रा, डॉ. पंकज जिंदल, डॉ. ऋतु, डॉ. नितिन, डॉ. निशा, गौरव व डॉ. संजय जाखड़ मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...