चुनाव / शाह की मौजूदगी में भाजपा में शामिल हुए संपत सिंह, कांग्रेस से टिकट कटा तो बिश्नोई पर आरोप लगा छोड़ी थी पार्टी



महम रैली में भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के साथ मंच पर मौजूद प्रोफेसर संपत सिंह। महम रैली में भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के साथ मंच पर मौजूद प्रोफेसर संपत सिंह।
X
महम रैली में भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के साथ मंच पर मौजूद प्रोफेसर संपत सिंह।महम रैली में भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के साथ मंच पर मौजूद प्रोफेसर संपत सिंह।

  • 6 बार इनेलो और कांग्रेस की सीट पर विधायक रह चुके हैं प्रोफेसर संपत सिंह

Dainik Bhaskar

Oct 10, 2019, 11:03 AM IST

रोहतक. इनेलो और कांग्रेस की सीट पर 6 बार विधायक बने प्रोफेसर संपत सिंह ने बुधवार को भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में भाजपा ज्वाइन कर ली। संपत सिंह ने महम में हुई रैली के दौरान भाजपा की सदस्यता ली। इससे पहले कांग्रेस से सीट कट जाने के बाद उन्होंने बगावत कर पार्टी छोड़ दी थी। इससे पहले वे बीते रविवार को रोहतक में सीएम मनोहर लाल खट्टर से भी मिले थे।

 

पार्टी छोड़ते हुए संपत सिंह ने पूर्व मुख्यमंत्री भजन लाल के बेटे कुलदीप बिश्नोई पर सीधे-सीधे टिकट काटने के आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा था कि जिस परिवार को उन्होंने चुनावों में पटखनी दी थी, आज उसी परिवार ने मेरी टिकट कटवा दी।' संपत सिंह ने कांग्रेस छोड़ते वक्त कहा था कि वे सामंतवादी सोच रखने वाले परिवारों के खिलाफ चुनाव में जमकर प्रचार करेंगे और उन्हें हराने का पूरा प्रयास करेंगे। कांग्रेस में छह-सात मठाधीश हैं। जिन लोगों ने पांच साल ग्राउंड लेवल पर काम किया, उन लोगों के टिकट काट दिए गई।

 

संपत सिंह ने कहा था कि भूपेंद्र सिंह हुड्डा को 51, कुमारी सैलजा को 15, अशोक तंवर को 6, रणदीप सुरजेवाला को 5, किरण को 3, अजय सिंह को 4, सा‍वित्री जिंदल को 1 और कुलदीप बिश्‍नोई के नाम पांच टिकट बांटी गईं। इनके कहने पर ही प्रत्‍याशियों का चुनाव हुआ।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना