हरियाणा / कचौरी वाले के फंसे थे 10 लाख 36 हजार रुपए, बेटे की शादी के लिए भी नहीं मिले तो दी जान



फरीदाबाद में पैसे के देनदार के घर के गेट पर लटकी लेनदार की लाश का मुआयना करती पुलिस। फरीदाबाद में पैसे के देनदार के घर के गेट पर लटकी लेनदार की लाश का मुआयना करती पुलिस।
X
फरीदाबाद में पैसे के देनदार के घर के गेट पर लटकी लेनदार की लाश का मुआयना करती पुलिस।फरीदाबाद में पैसे के देनदार के घर के गेट पर लटकी लेनदार की लाश का मुआयना करती पुलिस।

  • फरीदाबाद की जवाहर कॉलोनी में रहता था  60 वर्षीय उदय सिंह पुत्र लज्जा
  • पांच साल से डाल रहा था सुनील नामक व्यक्ति के पास कमेटी, बेटे सुरेंद्र की शादी की तैयारियां हो चुकी थी शुरू

Dainik Bhaskar

Nov 07, 2019, 08:13 PM IST

फरीदाबाद. फरीदाबाद में एक व्यक्ति ने गुरुवार को फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। इस मामले में गजब चौंकाने वाली बात है कि कचौरी बेचने वाले इस शख्स के 10 लाख 36 हजार रुपए कमेटी डालने वाले एक व्यक्ति के पास फंसे थे और अब बेटे की शादी नजदीक होने पर भी नहीं मिल नहीं रहे थे। शव के पास से एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें उसने एक कमेटी संचालक को जिम्मेदार बताया है। पुलिस ने शव का सिविल अस्पताल में पोस्टमॉर्टम करवाकर आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

 

घटना फरीदाबाद की जवाहर कॉलोनी की है। यहां आत्महत्या करने वाले व्यक्ति की पहचान 60 वर्षीय उदय सिंह पुत्र लज्जा के रूप में हुई है, जो कचौरी बेचने का काम करता था, जबकि उसका बेटा सुरेंद्र भटूरे की रेहड़ी लगाता था। बताया जाता है कि उदय ने सुनील ब्रेड वाले के यहां कमेटी डाल रखी थी और उसे उससे कमेटी के 10 लाख 36 हजार रुपए लेने थे। कई बार तकादा करने के बावजूद उसे रुपए नहीं मिल रहे थे, जिससे परेशान होकर गुरुवार को उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

 

जवाहर कॉलोनी निवासी कालीचरण ने पुलिस को बताया है कि उसके पिता उदय सिंह ने करीब पांच साल से सुनील के पास कमेटी डाली हुई थी। कमेटी उठने पर रुपए सुनील रख लेता था और आश्वासन देता कि ब्याज सहित सारी रकम लौटा देगा। सुनील ने हाल ही में मकान बनाया है, उसके लिए भी उदय सिंह से रुपए उधार लिए थे। अब कालीचरण के छोटे भाई सुरेंद्र की शादी दो महीने बाद तय हुई। पूरा परिवार शादी की तैयारियों में जुटा हुआ था। इसके लिए रुपयों की जरूरत थी। पिता उदय सिंह सुनील के पास लगातार तकादा करने जाते थे। बुधवार को भी वो सुनील के घर रुपयों का तकाजा करने गए थे। आरोप है कि सुनील ने रुपए लौटाने से इनकार कर दिया और उदय सिंह को धक्के देकर घर से निकाल दिया।

 

गुरुवार सुबह उदय किसी को बिना कुछ बताए निकल गए। कुछ देर बाद उन्होंने सुनील के घर के दरवाजे पर फंदा डालकर फांसी लगा ली। उनकी मौके पर ही मौत हो गई। लोगों ने उन्हें फंदे पर लटके देखकर परिजनों को सूचित किया। पुलिस ने उनके पास से सुसाइड नोट भी बरामद किया, उसमें भी उन्होंने सुनील द्वारा रुपए न लाैटाने के कारण जान देने की बात लिखी है। सारन थाना पुलिस ने सुनील के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करने की पुष्टि की है।

 

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना