मॉब लिंचिंग / नूहं के पहलू खान की मौत मामले में अलवर कोर्ट ने सुनाया फैसला, सातों आरोपी बरी



पीट-पीटकर कर दिया था घायल, अस्पताल में हुई थी मौत। पीट-पीटकर कर दिया था घायल, अस्पताल में हुई थी मौत।
X
पीट-पीटकर कर दिया था घायल, अस्पताल में हुई थी मौत।पीट-पीटकर कर दिया था घायल, अस्पताल में हुई थी मौत।

  • 1 अप्रैल 2017 को हरियाणा से गाय खरीदकर लाते वक्त पहलू और उनके दो बेटों के साथ की गई थी मारपीट

Dainik Bhaskar

Aug 14, 2019, 05:49 PM IST

अलवर। हरियाणा के नहूं जिले के पहलू खान की राजस्थान में भीड़ द्वारा पीट-पीटकर की गई हत्या मामले में बुधवार को अलवर कोर्ट ने फैसला सुना दिया। न्यायाधीश डॉ. सरिता स्वामी ने सभी सातों आरोपियों को बरी कर दिया है। मंगलवार को अंतिम बहस के बाद न्यायाधीश डॉ. स्वामी ने फैसला बुधवार तक के लिए सुरक्षित रख लिया था।

सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर अलवर में हुई सुनवाई

  1. अपर लोक अभियोजक योगेंद्र सिंह खटाना ने बताया कि प्रकरण का ट्रायल एडीजे कोर्ट बहरोड़ में शुरू हुआ था। बाद में सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर मामले को अलवर की अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश संख्या एक की अदालत में सुनवाई के लिए स्थानांतरित किया गया। सुनवाई के दौरान अपर लोक अभियोजक द्वारा 44 अभियोजन साक्षियों के बयान दर्ज करवाए गए। आरोपियों की ओर से एडवोकेट हुकम चंद शर्मा द्वारा पैरवी की जा रही थी।

  2. 9 आरोपियों में से 2 नाबालिग

    इस मामले में पुलिस की ओर से 9 आरोपियों के खिलाफ चालान पेश किए गए, जिनमें से 2 आरोपी नाबालिग होने के कारण उनके विरुद्ध सुनवाई किशोर न्याय बोर्ड में चल रही था। जबकि, 5 आरोपियों विपिन यादव, रविंद्र कुमार, कालूराम, दयानंद व योगेश कुमार के विरुद्ध अदालत में चालान पेश किया था। शेष 2 आरोपियों भीमराठी व दीपक उर्फ गोलू के खिलाफ बाद में चालान पेश किया गया था।

  3. 2017 में की गई थी मारपीट

    1 अप्रैल 2017 को हरियाणा के नूहं मेवात जिले के जयसिंहपुर निवासी 55 वर्षीय पहलू खां अपने दो बेटों आरिफ व इरशाद के साथ पिकअप गाड़ी में जयपुर के हरमाड़ा से दो गाय खरीद कर अपने घर ले जा रहा था। शाम करीब 7 बजे बहरोड़ पुलिया से आगे निकलने पर भीड़ ने पिकअप गाड़ी को रुकवा कर पहलू व उसके बेटों से मारपीट की थी। थोड़ी देर बाद पीड़ित पक्ष की दूसरी पिकअप गाड़ी भी मौके पर आ गई थी, जिसमें तीन गायों के साथ अजमत व रफीक नाम के व्यक्ति बैठे थे। उनके साथ भी मारपीट की गई।

  4. इलाज के दौरान पहलू ने तोड़ा था दम

    मारपीट में पहलू खां के मुंह व सिर पर चोट आई थी। पुलिस ने पहलू व अन्य घायलों को बहरोड़ के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया था, जहां 4 अप्रैल 2017 को इलाज के दौरान पहलू की मौत हो गई थी। बहरोड़ के निजी अस्पताल में इलाज के दौरान पहलू खां के पर्चा बयान लिए थे। इस आधार पर एफआईआर दर्ज की गई थी। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना