--Advertisement--

जब्त इंप्लांट को छोड़ने के लिए निजी केमिस्ट ने लगाई गुहार

निजी केमिस्टों ने हेल्थ यूनिवर्सिटी प्रशासन से जब्त इंप्लांट को देने की गुहार लगाई है। इसको लेकर मेडिकल मोड...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 03:41 AM IST
Rohtak - private chemists put on leave to release seized implants
निजी केमिस्टों ने हेल्थ यूनिवर्सिटी प्रशासन से जब्त इंप्लांट को देने की गुहार लगाई है। इसको लेकर मेडिकल मोड स्थित निजी केमिस्ट संचालक पीजीआई के डायरेक्टर डॉ. रोहताश यादव से मिले। मगर मामला पुलिस के पास होने के कारण इंप्लांट को रिलीज नहीं किया गया। अब निदेशक ने इंप्लांट छोड़ने को हेल्थ विवि के वीसी डॉ. ओपी कालरा से सलाह मांगी है। इसके बाद ही मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी। करीब डेढ़ महीने पहले पीजीआई के पूर्व निदेशक डॉ. नित्यानंद ने संस्थान में लगभग आठ करोड़ रुपये के इंप्लांट जब्त किए थे। यह इंप्लांट निजी केमिस्टों के द्वारा पीजीआई के आर्थो विभाग में उपचाराधीन मरीजों को सप्लाई किए जा रहे थे। निजी केमिस्ट संस्थान के अंदर आकर महंगी दरों पर मरीजों को इंप्लांट बेच रहे थे जबकि नियमानुसार संस्थान के अंदर कोई भी निजी कर्मचारी ऐसी गतिविधि नहीं कर सकता। इसके बाद विवि प्रशासन ने संस्थान के अंदर इंप्लांट सप्लाई करने वालों के खिलाफ पीजीआई थाना पुलिस को शिकायत दी थी।

X
Rohtak - private chemists put on leave to release seized implants
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..