• Hindi News
  • Haryana
  • Rohtak
  • Rohtak Many people and students travelling in haryana Roadways buses without ticket sharing information on soical media

हेराफेरी / वॉट्सएप व टेलीग्राम जैसे एप पर 60 से ज्यादा ग्रुप बने, फ्लाइंग की लोकेशन शेयर कर कर रहे बेटिकट यात्रा



Rohtak Many people and students travelling in haryana Roadways buses without ticket sharing information on soical media
X
Rohtak Many people and students travelling in haryana Roadways buses without ticket sharing information on soical media

  • इन ग्रुप में सबसे ज्यादा स्टूडेंट्स व दैनिक यात्री, रोडवेज के राजस्व को रोज लाखों का नुकसान
     

Dainik Bhaskar

Sep 05, 2019, 11:15 AM IST

रोहतक (रत्न पंवार)। रोडवेज बसों में रोजाना सफर करने वाले यात्रियों के वॉट्सएप व टेलीग्राम जैसे एप पर 60 से ज्यादा ऐसे ग्रुप बने हुए हैं, जिनके जरिए यात्री एक-दूसरे को रूट पर फ्लाइंग टीम की अपडेट देते हैं। रोडवेज अधिकारी बताते हैं कि प्रदेश में ऐसा कोई रूट नहीं है, जिसका बेटिकट यात्रियों ने ग्रुप न बना रखा हो। इन ग्रुप में सुबह से शाम तक फ्लाइंग और रूट क्लियर होने की पल-पल की अपडेट जानकारी डाली जाती रहती है। ऐसे में रोडवेज को रोज लाखों रुपए के राजस्व का नुकसान हो रहा है। 

 

वॉट्सएप ग्रुप की सूचना अधिकारियों के पास होते हुए भी कोई कदम नहीं उठाए जा रहे हैं। पहली बार मई 2018 में इस तरह का वॉट्सएप ग्रुप हिसार में पकड़ा गया था। इसमें 239 सदस्यों को जोड़ रखा था। इसमें कई सरकारी विभागों, अस्पताल व अन्य कार्यालयों में कार्यरत कर्मचारी पाए गए थे। जब यह पता चल जाता कि फ्लाइंग रूट पर नहीं है तो टिकट नहीं कटवाई जाती थी।

 

रोहतक में पहले 36 हजार लोग बनवाते थे मंथली पास, अब 20 हजार ही रहे
रोहतक से दिल्ली, सांपला, खरखौदा, सिरसा, जींद, हिसार, भिवानी, बहादुरगढ़, महम, हांसी, फतेहाबाद, उकलाना, कुरुक्षेत्र रूट पर 60 से ज्यादा वॉट्सएप ग्रुप सामने आए हैं। टेलीग्राम एप्लीकेशन पर भी इसी तरह से ग्रुप बने हुए हैं। टेलीग्राम से जुड़ने का कारण स्टूडेंट्स की संख्या ज्यादा होना भी है। चूंकि टेलीग्राम ग्रुप में एक साथ दो लाख लोगों को जोड़ा जा सकता है, जबकि वॉट्सएप ग्रुप की क्षमता मात्र 256 तक ही सीमित हैं। पिछले साल रोहतक जिले में करीब 36 हजार पास बनाए गए थे, लेकिन इन ग्रुप के कारण मार्च से अब तक करीब 20 हजार पास ही बन पाए हैं।

 

मुफ्तखोरों ने ग्रुप के नाम भी खास रखे हैं...
इन ग्रुप के नाम भी कुछ खास हैं। जैसे- सुहाना सफर, फ्लाइंग के बाप, रोहतक रॉयल अपडेट, रोडवेज जेटपैक, सुपर हरियाणा, स्टूडेंट यूनियन, रोड की रानी, एचआर रोडवेज फ्लाइंग ग्रुप, मंगल यात्रा, 1, 2 और 3, फ्री सेवा रोहतक टू हिसार, हरियाणा शान, शुभ यात्रा-2, अॉल इनफॉरमेशन इन हरियाणा, हरियाणा आले अलबादी, जैसे तमाम ग्रुप बने हुए हैं और रोजाना इनमें सुबह 5 बजे से रात 8 बजे तक अपडेट जानकारी रहती है।

 

साइबर टीम की मदद से कराएंगे केस: मंत्री
परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार का कहना है कि वॉट्सएप ग्रुप बनाकर फ्लाइंग की सूचनाएं लीक करने व राजस्व को नुकसान पहुंचाने वालों के खिलाफ एफआईआर कराई जाएगी। पुलिस की साइबर टीम की भी मदद ली जाएगी। जीएम को निर्देश दिए हैं कि समय-समय पर खुद भी जांच करें। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना