हरियाणा / रोहतक-झज्जर, यमुनानगर में लगी रही धारा 144, प्रदेश में कुछ जगह इंटरनेट प्रभावित

फाइल। फाइल।
X
फाइल।फाइल।

  • अयोध्या विवाद पर सुप्रीम काेर्ट के फैसले के बाद प्रशासन अलर्ट

दैनिक भास्कर

Nov 10, 2019, 04:11 AM IST

रोहतक/प्रदेशभर से. अयोध्या विवाद पर लंबे इंतजार के बाद शनिवार को सुप्रीम काेर्ट ने फैसला सुना दिया। इसके चलते हालातों पर निगरानी रखने के लिए शनिवार को रोहतक, झज्जर, यमुनानगार और विशेष एरिया में धारा 144 लगाई गई थी। कुछ जिलों में इंटरनेट की स्पीड स्लो रही। सभी अधिकारियों व कर्मचारियों के अवकाश रद्द कर दिए गए। इसके साथ रोहतक की तीन मस्जिदों लाल मस्जिद, नूरानी मस्जिद और शीशे वाली मस्जिद पर सुबह से ही पुलिस का पहरा लगा दिया गया है। प्रदेशभर में हालात सामान्य रहे। लोगों ने रोजमर्रा के काम निपटाएं।

 

इधर, यमुनानगर में कपालमोचन मेले के एरिया को छोड़कर जिले में धारा 144 लगाई हुई थी। झज्जर की भी जहांआरा मस्जिद व मेन बाजार स्थित जामा मस्जिद में पुलिसबल तैनात रहा। जिला प्रशासन की ओर से अमन-चैन बनाए रखने की अपील की जा रही है। रोहतक और झज्जर में जिला प्रशासन की ओर से अयोध्या राम मंदिर पर सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के मद्देनजर कानून व्यवस्था बनाये रखने के उद्देश्य से सभी अधिकारियों-कर्मचारियों को स्टेशन नहीं छोड़ने के साथ बिना अनुमति के अवकाश पर न जाने के निर्देश जारी किए हैं।

 

दोनों पक्षों ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले को सराहा
प्रदेशभर में सभी मस्जिदों और मंदिरों के आसपास पुलिस बल तैनात रहा और सभी डीएसपी व थाना प्रभारियों ने अपने-अपने एरिया में गश्त की। फरीदाबाद-गुड़गांव में इस फैसले का यहां के हिंदू और मुसलमान दोनों पक्षों ने सराहा। विशेष समाज के लोग बोले- हमारा मुल्क ही हमारी पहचान है। कोर्ट के फैसले का हम इस्तकबाल करते हैं। उन्होंने कहा कि देश की सर्वोच्च अदालत ने ऐतिहासिक फैसला देकर इतिहास रच दिया। कोर्ट ने दोनों पक्षों की तमाम दलीलों को सुनने के बाद यह फैसला सुनाया। इसमें किसी भी पक्ष की हार और जीत नहीं हुई, बल्कि सबूतों के आधार पर फैसला दिया गया है। सबको शांति बनाए रखनी चाहिए।
 

 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना