स्किन केयर / इस्तेमाल से पहले समझें डे और नाइट क्रीम का फर्क, बढ़ती उम्र का असर रोकने के लिए लगाते हैं नाइट क्रीम



difference between day cream and night cream
X
difference between day cream and night cream

Dainik Bhaskar

Jun 15, 2019, 08:51 PM IST

लाइफस्टाइल डेस्क.  आपकी 'डे' और 'नाइट' क्रीम में अंतर क्या है? क्या वाकई आपकी स्किन को इन दोनों ही क्रीम्स की जरूरत होती है? ब्यूटी एक्सपर्ट विशाल मुद्गिल से जानिए इनके बारे में....

जानिए दोनों क्रीम्स के फायदे

  1. डे ग्लो

    दिन के समय स्किन को मेकअप, प्रदूषण, तनाव और यूवी किरणें नुकसान पहुंचाती हैं। इसलिए एक डे क्रीम को स्किन की सुरक्षा और संभाल के लिए तैयार किया जाता है। इनमें एसपीएफ होता है जो बर्निंग और फोटोएजिंग से स्किन का बचाव करता है। कैफीन जैसे इंग्रीडिएंट्स से स्किन ज्यादा ऊर्जावान और टाइट दिखती है। डे क्रीम को अक्सर मेकअप के नीचे लगाया जाता है इसीलिए इसका फॉर्मूला लाइट और नॉनग्रीसी होता है। यह जल्दी एब्जॉर्ब हो जाती हैं और पोर्स खुले रखती हैं। फाउंडेशन के लिए एक स्मूद बेस तैयार करती हैं। कई डे क्रीम्स में एंटी-एजिंग गुण भी होते हैं। 

  2. नाइट क्रीम

    आपकी स्किन सबसे ज्यादा काम रात को ही करती है। बाकी शरीर की तरह स्किन भी अपनी रिपेयरिंग, रीस्टोरिंग और रीजनरेटिंग रात को नींद के दौरान करती है। इसीलिए नाइट क्रीम्स मॉइस्चर और रिकवरी पर फोकस करती हैं। इनमें ऐसे मॉस्चराइज़र्स पाए जाते हैं जो शक्तिशाली होते हैं और बेहद धीमी गति से स्किन द्वारा एबजॉर्ब कर लिए जाते हैं। रात के वक्त सूर्य की किरणों की चिंता नहीं होती इसलिए नाइट क्रीम में एसपीएफ नहीं होता है और एंटी-एजिंग इंग्रीडिएंट्स की मात्रा अधिक होती है जो अपना काम बिना किसी रुकावट के कर पाते हैं। इसलिए नाइट क्रीम्स, डे क्रीम्स के मुकाबले ज्यादा हेवी होती हैं। 

  3. दोनों में है बड़ा फर्क 

    नाइट और डे क्रीम के बीच बहुत फर्क होता है। दोनों का उद्देश्य और टेक्सचर भी एक दूसरे से अलग होता है। यदि आप नाइट क्रीम को दिन में लगाएंगे तो स्किन ज्यादा ग्रीसी हो जाएगी और सनस्क्रीन का काम नहीं करेगी। इसी तरह रात को यदि आप डेे क्रीम लगाते हैं तो स्किन को मॉइश्चर तो मिल जाएगा लेकिन एंटी-एजिंग और मॉस्चराइजिंग एजेंट्स अपना असर नहीं दिखा पाएंगे। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना