फूड एक्सपेरिमेंट / किचन गार्डनिंग में कच्चे हैं तो आसान चीजों से शुरुआत करें

If you are raw in kitchen gardening then start with easy things
X
If you are raw in kitchen gardening then start with easy things

Dainik Bhaskar

Dec 02, 2019, 12:33 PM IST
हेल्थ डेस्क. किचन गार्डनिंग ज्यादातर बड़े घरों में की जाती रही है, जहां घर के पीछे बगीचा होता है, जिसमें आसानी से फल और सब्जियां उगाई जा सकती हैं। लेकिन यह कॉन्सेप्ट आमतौर पर शहरों के छोटे घरों में कारगर साबित नहीं हो पाता। शेफ संजीव कपूर छोटे घरों में किचन गार्डनिंग टिप्स दे रहे हैं। शेफ ने बताया- 'मैंने जब मुंबई में रहना शुरू किया तो खिड़की की चौखट की छोटी क्यारियों में पुदीना (मिंट), लेमनग्रास, जवारे (व्हीट ग्रास) और अजवाइन उगाना शुरू किया। मेरी मां इनका इस्तेमाल कभी चटनी बनाने में, कभी-कभी चाय में और तो कभी अनूठे कुरकुरे पकोड़े बनाने में भी करती थीं। धीरे-धीरे हमने टमाटर, हरी मिर्च, भिंडी वगैरह के बीज बड़े गमलों में बोना शुरू किया। कुछ ही महीनों में काफी मात्रा में सब्जियां ऊगने लगीं, जिससे हमें बहुत खुशी मिली और हम और भी ज्यादा सब्जियां लगाने के लिए प्रोत्साहित हुए। और इस सब्जियों का स्वाद लाजवाब था। ये ज्यादा क्रंची, ज्यादा फ्रेश और बहुत शानदार थीं।'

माइक्रोग्रीन्स को गार्निशिंग के लिए करें इस्तेमाल

  1. अब हमारे घर पर सब्जियां उगाना आम हो गया है और यकीन मानिए इस मेहनत का आपको पूरा फल मिलता है। और अगर आप किचन गार्डनिंग में अभी कच्चे हैं तो आप कुछ आसान चीजों से शुरुआत कर सकते हैं, जैसे कि माइक्रोग्रीन्स। ये बीज के अंकुरण (स्प्राउटिंग) के कुछ समय बाद निकलने वाले छोटे-छोटे हरे तिनके या घास जैसे या बहुत छोटे पौधे जैसे होते हैं, जो 2 से 4 इंच तक लंबे हो सकते हैं। इन छोटे तिनकों या छोटी-छोटी पत्तियों में ढेर सारे एंटीऑक्सीडेंट्स, तरह-तरह के विटामिन्स और मिनरल्स होते हैं। इसलिए यह बुहत ज्यादा पौष्टिक होते हैं। साथ ही आप इन्हें कई डिशेज में स्पेशल फ्लेवर देने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। आप चाहें तो इन्हें गार्निशिंग में भी इस्तेमाल कर सकते हैं, जिससे आपकी डिश और खूबसूरत लगेगी।

  2. आप राई (मस्टर्ड सीड्स), हरी मूंग जैसे कई तरह के माइक्रोग्रीन्स उगा सकते हैं। आपको बस कोको पीट (नारियल के बुरादा), बीज और गमले या क्यारी की जरूरत है और साथ में थोड़ी देखभाल और प्यार। साथ में मिट्टी भी इस्तेमाल की जा सकती है, लेकिन यह केमिकल या पेस्टीसाइड मुक्त होनी चाहिए। कुछ ही दिनों में आपको इस्तेमाल करने लायक माइक्रोग्रीन्स मिल जाएंगे। माइक्रोग्रीन्स की टिक्की मुझे माइक्रोग्रीन्स से टिक्कियां बनाना बहुत पसंद है। ये बहुत आसान है। आपको बस हरी मूंग माइक्रोग्रीन्स और सिके हुए बेसन में कद्दूकस किया हुआ चुकंदर, उबले आलू और मसाले एक साथ मिलाने हैं। फिर इन्हें टिक्कियों का आकार देकर कम तेल में हल्का फ्राय कर लीजिए। लीजिए गरमागरम हेल्दी टिक्की तैयार है, वह भी मिनटों में!

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना