--Advertisement--

महानायक का संघर्ष /सिर्फ 25% लीवर पर जिंदा हैं अमिताभ बच्चन, 35 साल पहले की एक लापरवाही के कारण हुआ ऐसा



Amitabh Bachchan Birthday special when 75 percent liver was removed
X
Amitabh Bachchan Birthday special when 75 percent liver was removed

  • मामला 1983 में आई फिल्म कुली से जुड़ा है, इसके एक सीन में घायल हो गए अमिताभ
  • ब्लीडिंग के कारण हालत बेहद नाजुक होने पर आनन-फानन में करीब 200 डोनर्स से 60 बोतल ब्लड इकट‌्ठा किया गया था

Dainik Bhaskar

Oct 11, 2018, 04:22 PM IST

हेल्थ डेस्क. 1983 में आई फिल्म कुली के एक सीन में अभिनेता पुनीत इस्सर अमिताभ को पेट पर पंच मारते हैं। फिल्म में यह सीन जितना आसान सा दिखता है असल जिंदगी में उससे उलट साबित होता है। यह पंच इतना तेज था कि अंदरूनी ब्लीडिंग के कारण बिग-बी के शरीर में खून की काफी कमी हो गई थी। उन्हें मुंबई के कैंडी ब्रीच हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। ब्लीडिंग के कारण हालत बेहद नाजुक हो गई।

 

घटना जगजाहिर हुई, पूरे देश में दुआएं मांगी गईं। इस दौरान उनकी मौत की अफवाह भी उड़ी। आनन-फानन में करीब 200 डोनर्स से 60 बोतल ब्लड इकट‌्ठा किया गया था। इस दौरान एक लापरवाही भी हुई। जिसमें हेपेटाइटिस-बी से संक्रमित व्यक्ति का खून अमिताभ बच्चन को चढ़ा दिया गया। जो उन्हें जीवनभर का दर्द दे गया। एक छोटी सी लापरवाही के कारण शरीर में संक्रमण फैला और लिवर सिरोसिस का कारण बना।

 

2012 में लिवर का 75 फीसदी संक्रमित हिस्सा काटकर अलग किया गया। बिग-बी अब 25 फीसदी लिवर के साथ जी रहे हैं। आज अमिताभ बच्चन का 76वां जन्मदिन है। इस मौके पर जानते हैं उस घटना के बाद बिग-बी की जिंदगी पर क्या असर पड़ा...

 

  • 18 साल बाद पता चला और लिवर का संक्रमित हिस्सा हटाना पड़ा

    18 साल बाद पता चला और लिवर का संक्रमित हिस्सा हटाना पड़ा

    • अमिताभ बच्चन ने एक इंटरव्यू में बताया था कि हेपेटाइटिस-बी वायरस के इफेक्शन ने उनके लिवर पर क्या असर डाला है यह बात उन्हें करीब 18 साल बाद पता चली। सन् 2000 में उन्होंने रूटीन चेकअप कराया।
    • रिपोर्ट में सामने आया कि वायरस के कारण लिवर बुरी तरह संक्रमित है और लिवर सिरोसिस हो गया है। और नतीजा यह रहा है कि उनका 75 फीसदी लिवर हटाना पड़ा।
    • इस घटना ने एक बार फिर 1982 की याद दिलाई और देशभर में उनके लिए दुआएं की गईं। सर्जरी हुई, अमिताभ बीमारी से लड़े और जीते भी। 

  • चाय-कॉफी, स्मोकिंग और अल्कोहल से परहेज

    चाय-कॉफी, स्मोकिंग और अल्कोहल से परहेज

    • इस घटना के कारण उन्हें लाइफस्टाइल में कई बदलाव करने पड़े। 25 फीसदी लिवर डैमेज होने के बाद भी अमिताभ फिट हैं और उम्र के 75 पड़ाव पर भी वे 13-14 घंटे काम कर रहे हैं। इसका कारण है वे अल्कोहल और स्मोकिंग से दूर रहते हैं।
    • चाय-कॉफी से परहेज करते हैं। बिग-बी पेस्ट्री और केक सहित तमाम तरह का मीठा खाना भी छोड़ चुके हैं। वे पूरी तरह से शाकाहारी हैं और रोजाना योगा करते हैं।
       

     

  • गंभीर बीमारी की अफवाहों पर जया बच्चन को देनी पड़ी थी सफाई

    • मार्च 2018 में फिल्म ठग्स आॅफ हिन्दोस्तान की शूटिंग के दौरान भी उनके गंभीर रूप से बीमार होने की अफवाह फैली थी। उस दौरान अमिताभ जोधपुर में थे। फिल्म की शूटिंग के दौरान दर्द की शिकायत हुई थी। लेकिन अफवाह यह फैली कि उन्हें गंभीर बीमारी के कारण इलाज के लिए मुंबई लाया गया है।
    • मामला इतना बढ़ा कि जया बच्चन को इस पर सफाई देनी पड़ी थी। उन्होंने बताया कि अमितजी जोधपुर में ही हैं। शूटिंग के दौरान कॉस्ट्यूम काफी हैवी होने के कारण पीठ और गर्दन में दर्द की शिकायत हुई थी।
       

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..