शोध / चीनी वैज्ञानिकों ने शरीर में अंदर कैंसर की दवा कंट्रोल करने वाला नैनोजनरेटर बनाया



Chinese scientists develop nanogenerator for cancer drug delivery system
X
Chinese scientists develop nanogenerator for cancer drug delivery system

  • डिवाइस बनाने वाले बीजिंग के इंस्टीट्यूट ऑफ नैनो एनर्जी का दावा है नैनोजनरेटर स्वस्थ कोशिकाओं को डैमेज होने से बचाता है
     

Dainik Bhaskar

Feb 26, 2019, 06:05 PM IST

हेल्थ डेस्क. चीनी वैज्ञानिकों ने ऐसा नैनोजनरेटर बनाया गया है जो शरीर के अंदर इंम्प्लांट किया जा सकता है। इसकी मदद से कैंसर की दवा कंट्रोल जा सकती है जो कैंसर थैरेपी में अहम रोल निभाती है। इंप्लांट की लंबाई और चौड़ाई 2.5 सेमी है जिसे बीजिंग के इंस्टीट्यूट ऑफ नैनो एनर्जी ने तैयार किया है। यह टेस्ट चूहों पर किया गया है। 

स्किन के नीचे लगाया जाता है इंप्लांट

  1. वैज्ञानिकों का कहना है कि जब शरीर में एंटी-ट्यूमर ड्र्रग रिलीज किया जाता है तो यह लाल रुधिर कणिकाओं की मदद से पूरे शरीर में सर्कुलेट होता है। बॉडी में बिजली रिलीज करने पर लाल रुधिर कणिकाओं की क्रियाशीलता बढ़ जाती है। इसी बात को प्रयोग का आधार बनाया गया है। 
     

  2. शोधकर्ताओं के मुताबिक, इस डिवाइस को स्किन के नीचे इंप्लांट किया जा सकता है। यह पर्याप्त बिजली जनरेट करता है जिससे दवा के लेवल को कंट्रोल किया जा सकता है। वैज्ञानिकों का दावा है कि इम्प्लांट की मदद से दवा का लेवल सिर्फ कैंसर वाले हिस्से में ज्यादा बढ़ता है। इंप्लांट स्वस्थ कोशिकाओं में एंटी ट्यूमर ड्रग पहुंचने से रोकता है जिससे उन्हें नुकसान नहीं पहुंचता और मरीज की उम्र में बढ़ोतरी होती है। 
     

  3. शोधकर्ता फेंग हॉन्गक्विंग का कहना है कि हमारी कोशिश है कि इंप्लांट का आकार छोटा किया जाए। कोशिश है कि इसे ऐसी डिवाइस में बदला जा सके जिससे पहनने भर से ही ड्रग को कंट्रोल किया जा सके।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना