दूध पीते समय बच्चे का हांफना और शरीर नीला पड़ना दिल की बीमारी का लक्षण

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

हेल्थ डेस्क. यदि आपका नवजात बच्चा दूध पीते-पीते हांफ रहा है और बीच-बीच में रुक रहा है तो इसे हल्के में न लें। फौरन डॉक्टर को दिखाएं, ऐसा न हो कि आपके बच्चे को दिल की बीमारी हो। बच्चों में दिल की बीमारी के लक्षणों के बारे में रविवार को गंगाराम अस्पताल में जानकारी दी गई।

 

चिल्ड्रन हार्ट डे कार्यक्रम में सर गंगाराम अस्पताल के पीडियाट्रिक हार्ट सर्जन डॉ. नीरज अग्रवाल ने बताया कि दिल की बीमारी से पीड़ित बच्चों में से 95-97 % लक्षण जन्मजात होते हैं। कुछ मामलों में बाद में पता चलता है। इन लक्षणों का पता लगाने के बाद कंफर्म करने को इको टेस्ट होता है। इन बच्चों की समय पर सर्जरी के बाद वे ठीक हो सकते हैं, लेकिन अक्सर लड़कियों के मामले में लोग सर्जरी नहीं कराते। देश में दिल की बीमारी से पीड़ित बच्चों की संख्या प्रति हजार 8 है। 

 

अगर ऐसा दिखे तो अलर्ट हो जाएं
दूध पीते समय बच्चे का रुक-रुककर जोर-जोर से सांस लेना, ज्यादा पसीना निकलना, सांस फूलना, बार-बार निमोनिया होना, छाती में संक्रमण, वजन न बढ़ना व शरीर का नीला पड़ जाना दिल की बीमारियों के लक्षण हैं।