पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

सबसे कम हेल्दी है भारत का डिब्बाबंद खाना और पेय पदार्थ, ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी का दावा

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • यूनिवर्सिटी ने 12 देशों के 4 लाख खाद्य पदार्थों का विश्लेषण करने के बाद जारी नतीजे
  • देशों को गुणवत्ता के आधार पर दी रेटिंग, लंदन शीर्ष पर, भारत निचले पायदान पर

हेल्थ डेस्क. ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में हुए अध्यययन के मुताबिक, भारत में बिकने वाले डिब्बाबंद फूड और पेय पदार्थ सबसे कम स्वास्थ्यकर हैं। इनमें वसा, चीनी और नमक की मात्रा अधिक होती है। यूनिवर्सिटी ने यह नतीजे 12 देशों के 4 लाख खाद्य पदार्थों का विश्लेषण करने के बाद जारी किए हैं। विश्लेषण के बाद जारी सूची में लंदन शीर्ष पर जबकि भारत निचले पायदान पर है।

1) रेटिंग चीन भारत से भी नीचे

विश्लेषण करने वाले ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के जॉर्ज इंस्टीट्यूट फॉर ग्लोबल हेल्थ के मुताबिक, अलग-अलग देशों के खाद्य पदार्थों की जांच के आधार पर उन्हें रेटिंग दी गई है। रेटिंग की सूची के मुताबिक, अमेरिका दूसरे और ऑस्ट्रेलिया तीसरे नंबर पर है। 

रैंकिंग का आधार पैकेज फूड में मौजूद ऊर्जा, नमक, शक्कर, सैचुरेटेड फैट, प्रोटीन, कैल्शियम और फायबर की मात्रा है। रैकिंग का सबसे निचला प्वाइंट 1/2 है जिसका मतलब है सबसे कम हेल्दी फूड। वहीं 5 रेटिंग का मतलब है सबसे बेहतर पैकेज फूड। 

ओबेसिटी रिव्यू जर्नल में प्रकाशित शोध के अनुसार, लंदन को 2.83, अमेरिका को 2.82 और ऑस्ट्रेलिया को 2.81 रेटिंग मिली है। वहीं, भारत को 2.27 और चीन को 2.43 रेटिंग दी गई है। दोनों ही देश सूची में सबसे नीचे हैं।

चीन के पैकेज फूड में सैचुरेटेड फैट का स्तर अधिक है। चीन के 100 ग्राम खाद्य पदार्थ में 8.5 ग्राम शुगर है जबकि भारत में यह मात्रा 7.3 ग्राम है। शोध के मुताबिक, भारत में पैकेज फूड और पेय पदार्थ अधिक ऊर्जा देने वाले हैं। 

शोधकर्ता एलिजाबेथ डूनफोर्ड का कहना है कि दुनियाभर के लोग ज्यादातर प्रोसेस्ड फूड खा रहे हैं जो चिंता का विषय है। सुपर मार्केट में भी ऐसे खाद्य पदार्थों की भरमार है जिनमें अधिक फैट, शक्कर और नमक है। ये हमें बीमार बना रहे हैं। 

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन पारिवारिक व आर्थिक दोनों दृष्टि से शुभ फलदाई है। व्यक्तिगत कार्यों में सफलता मिलने से मानसिक शांति अनुभव करेंगे। कठिन से कठिन कार्य को आप अपने दृढ़ विश्वास से पूरा करने की क्षमता रखे...

और पढ़ें