विज्ञापन

बी-अलर्ट / दिन में साढ़े 3 घंटे से ज्यादा टीवी देखने पर घट सकती है बुजुर्गों की याददाश्त, किताब पढ़कर बढ़ाएं मेमोरी

Dainik Bhaskar

Mar 02, 2019, 08:36 AM IST


प्रतीकात्मक फोटो। प्रतीकात्मक फोटो।
ऐसे लोग जो लगातार 25 सालों से टीवी देख रहे हैं उनमें डिमेंशिया की समस्या हो सकती है। ऐसे लोग जो लगातार 25 सालों से टीवी देख रहे हैं उनमें डिमेंशिया की समस्या हो सकती है।
X
प्रतीकात्मक फोटो।प्रतीकात्मक फोटो।
ऐसे लोग जो लगातार 25 सालों से टीवी देख रहे हैं उनमें डिमेंशिया की समस्या हो सकती है।ऐसे लोग जो लगातार 25 सालों से टीवी देख रहे हैं उनमें डिमेंशिया की समस्या हो सकती है।
  • comment

  • यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन के शोधकर्ता डॉ. डेजी फेनकोर्ट के मुताबिक- टीवी ज्यादा देखने पर दिमाग में तनाव बढ़ता है
  • 50 साल की उम्र के बाद टीवी पर ज्यादा समय बिताने पर भूलने की बीमारी हो सकती है

हेल्थ डेस्क. पचास साल से ज्यादा उम्र के व्यक्तियों को दिन में साढ़े तीन घंटे से ज्यादा टीवी देखना उनकी याददाश्त को घटा सकता है। यह बात 3662 बुजुर्गों पर हुई रिसर्च में सामने आई है। यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन की रिसर्च के अनुसार, टीवी ज्यादा देखने पर दिमाग पर तनाव बढ़ता है, जो याददाश्त घटने का कारण बनता है और बाद में डिमेंशिया (भूलने की बीमारी) की वजह बन सकता है। 

शोधकर्ताओं का दावा, बुजुर्गों की याद्दाश्त में 10 फीसदी तक हुई गिरावट

  1. यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन के वैज्ञानिकों का कहना है कि तय समय से अधिक टीवी देखना याददाश्त को घटाता है लेकिन किताब पढ़ने से मेमोरी में इजाफा होता है। शोध के मुताबिक, सीरियल, डॉक्यूमेंट्रीज और रियलिटी शाेज याद करने की क्षमता को 10% तक घटा देते हैं।

  2. शोधकर्ता डॉ. डेजी फेनकोर्ट के मुताबिक पिछले एक दशक से टीवी और मेमोरी से जुड़ी रिसर्च को बच्चों से ही जोड़कर देखा जा रहा है। इसे जीवन के दूसरे हिस्से से जोड़ा नहीं गया। ऐसे लोग जो लगातार 25 सालों से टीवी देख रहे हैं उनमें डिमेंशिया की समस्या हो सकती है। 

  3. रिसर्च में शामिल 3662 बुजुर्गों ने 2008-2009 और 2014-2015 में दिन में कितनी बार टीवी देखी, यह पूछा गया। इसके बाद उनसे शब्दों की एक सीरीज का टेस्ट लिया गया। परिणाम के रूप में सामने आया कि जिन्होंने टीवी नहीं देखी उनकी याददाश्त 5% ज्यादा थी। लगातार 6 साल तक टीवी देखने वाले बुजुर्गों की याददाश्त में 10% तक की गिरावट दर्ज की गई। 

  4. सरे यूनिवर्सिटी के क्लीनिकल साइकोलॉजी के प्रोफेसर डॉ. बॉब पेटन का कहना है कि टीवी देखने के कारण दिमाग की संरचना में बदलाव होते हैंं खासकर उन हिस्सों में जिसका संबंध याददाश्त से होता है। हालांकि यह पूरी तरह से स्पष्ट नहीं हो पाया है कि टीवी पर प्रसारित होने वाले किस प्रकार के प्रोग्राम की वजह ऐसा होता है। 

  5. शोधकर्ता डॉ. डेजी फेनकोर्ट का कहना है कि 50 साल की उम्र से ज्यादा के व्यक्ति अगर टीवी देख रहे हैं तो ज्यादा देर तक मत देखें। समय बिताने के लिए दूसरे रचनात्मक कामों या बुक रीडिंग पर फोकस कर सकते हैं।

COMMENT
Astrology
Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन