चंडीगढ़ / दूध के पैसे से शराब की खरीद फरोख्त कर बैंक से किया 74 करोड़ का फ्राॅड, बजाज पर केस दर्ज

डेमो पिक्चर डेमो पिक्चर
X
डेमो पिक्चरडेमो पिक्चर

  • सीबीआई ने शराब ठेकेदार चरणजीत बजाज और उनकी पत्नी को बनाया आरोपी

दैनिक भास्कर

Nov 20, 2019, 11:27 AM IST

चंडीगढ़. शहर के शराब के बड़े कारोबारी चरणजीत सिंह बजाज और उनकी पत्नी अपनी कंपनी के जरिए दूध बनाने के प्रोडक्ट के लिए बैंक से करोड़ों के लोन लेती रहे। चरणजीत सिंह खुद व अपने बेटे के जरिए मिल्क प्रोडक्ट्स बनाने वाला पैसा शराब के बिजनेस में लगाते रहे।

 

इसके जरिए चंडीगढ़ और पंजाब के शराब कारोबारियों में नंबर वन कहलाने लगे। अब उनकी इस जालसाजी का खुलासा हुआ है। सीबीआई ने चरणजीत बजाज और उनकी पत्नी गुरदीप कौर के खिलाफ जाली कागजात बनाने, झूठा स्टॉक दिखाने, बैंक का पैसा खुर्दबुर्द करने और जालसाजी करने की धाराओं के तहत केस दर्ज किया है।

 

जिन लोगों ने इनका साथ दिया, उनके खिलाफ अलग से प्रिवेंशन ऑफ करप्शन एक्ट की धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है। आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं की गई है। आरोपियों ने कुल 74 करोड़ का एसबीआई बैंक के साथ फ्राॅड किया। चरणजीत बजाज ने पांच साल पहले ही चंडीगढ़ की शराब ठेकेदारी में सेंध लगाई और बड़ी बोलियां लगाकर शहर के कई ठेके अपने नाम करता रहा।


कंपनी के बैंक अकाउंट में फर्जी एंट्री की: आरोपी चरणजीत सिंह बजाज और उनकी पत्नी के नाम पर प्योर मिल्क प्राइवेट लिमिटेड कंपनी थी। कंपनी का लुधियाना के सराभा नगर स्थित ऑफिस था। शिकायत में एसबीआई स्ट्रैसड एसेट्स मैनेजमेंट ब्रांच के लुधियाना शाखा के डिप्टी जनरल मैनेजर जगदीश लाल ने बताया कि आरोपी दंपति ने दूध डेयरी के प्रोडक्ट्स का प्रोजेक्ट दिखाकर करीब 74 करोड़ का प्रोजेक्ट लोन लिया। किस्तें समय से नहीं आ रही थी और वे बैंक करप्ट हो गए। जांच में पाया कि आरोपियों ने दूध प्रोडक्ट के लिए लिया पैसा शराब के बिजनेस में लगा दिया।

 

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना