पंजाब / बुलेट से पटाखे बजाने पर 9 युवकाें ने 12वीं के छात्र काे घेरकर किरच से गला रेत दिया



9 youths surrounded 12th student and murdered
9 youths surrounded 12th student and murdered
X
9 youths surrounded 12th student and murdered
9 youths surrounded 12th student and murdered

  • आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए नेशनल हाईवे पर 4 घंटे जाम, आश्वासन पर जाम खोला कहा-संस्कार आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद ही करेंगे

Dainik Bhaskar

Jul 12, 2019, 07:10 AM IST

खनौरी/पटियाला . बुलेट से पटाखे बजाने पर बुधवार देर रात 12वीं के छात्र काे 9 युवकों ने घेरकर पहले पीटा फिर किरच से गला रेतकर मार डाला। पुलिस ने हमलावरों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया। हत्यारोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर परिजनों ने दूसरे संगठनाें के सहयोग से वीरवार को दिल्ली-लुधियाना नेशनल हाईवे पर 4 घंटे धरना देकर यातायात ठप कर दिया।

 

आरोप है कि पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर रही है। पुलिस के हत्याराेपियाें काे शुक्रवार 4 बजे तक गिरफ्तार करने का अाश्वासन देने पर धरना उठा लिया गया। साथ ही चेतावनी दी गिरफ्तारी तक अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा। गुरतेज के पिता का कहना है कि उसने खुद देखा है कि उसके बेटे को रवि ने गर्दन पर किरच मारी है।

 

पिता बोला : मैंने खुद देखा-रवि ने गुरतेज की गर्दन पर मारी किरच

 

हमलावर चिल्ला रहे थे... पटाखे बजाने का मजा चखा दिया  : वार्ड नंबर 2 के निवासी हाकम सिंह के अनुसार, उसके बेटे की दोस्ती तरसेम सिंह से थी, जिसके पास बुलेट है। दोनों हमेशा एक-साथ रहते थे। बुधवार को गुरतेज शाम तक घर नहीं लौटा तो इसकी तलाश में वह तरसेम सिंह के घर जा रहा था। रात साढ़े 10 बजे के करीब वह तरसेम के घर के पास पहुंचा तो गुरतेज, तरसेम व शमशेर सिंह को लक्खू सिंह, सुखचैन सिंह, रवि, रामफल, संदीप, दीपू, लाडी, मिट्ठा, डीसी अाैर एक नाबालिग लड़का घेरकर पीट रहे थे। रवि ने हाथ में पकड़ी तेज किरच से गुरतेज सिंह की गर्दन पर वार कर दिया। हमलावर जोर-जोर से चिल्ला रहे थे कि बाइक के पटाखे बजाने का मजा चखा दिया है। उसने तरसेम व शमशेर की मदद से बेटे को पटियाला के अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया। आरोपियों ने साजिश के तहत उसके बेटे पर हमला किया था। 

 

पुरानी रंजिश- दो माह पहले दीपू के साथ हुई तकरारबाजी : गुरतेज व उसके दोस्तों की करीब दो माह पहले दीपू के साथ तकरारबाजी हुई थी। उस दौरान दीपू ट्रैक्टर पर ऊंची आवाज में गाने चला रहा था, जिसके कारण तकरारबाजी काफी बढ़ गई थी। कुछ समय पहले ही दोनों गुटों का पातड़ां में भी झगड़ा हुआ था, जिसके कारण उनकी अापस में रंजिश थी। बुधवार की रात तरसेम सिंह अपने बुलेट मोटरसाइकिल पर गुरतेज को उसके घर छोड़ने आ रहा था कि रास्ते में उन्हें घेर लिया गया। एसएचओ बलजीत सिंह के मुताबिक, पुलिस ने गुरतेज सिंह (मृत) के पिता के बयानों पर 9 युवकों लक्खू सिंह, सुखचैन सिंह, रवि, संदीप, दीपू, लाडी, मिट्ठा, डीसी और एक नाबालिग लड़के के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया। इनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
 

गुरतेज बहन का इकलौता भाई था : हाकम सिंह, जसवीर सिंह व बलकार सिंह ने कहा कि पुलिस को सभी हमलावरों के नाम बता दिए हैं। हत्या में कई और आरोपी भी शामिल हैं, जिन्हें पुलिस बचाने की कोशिश कर रही है। अभी तक पुलिस गिरफ्तार नहीं कर सकी है। गुरतेज अपनी बहन का इकलौता भाई था। गुरतेज के चले जाने  से उनके परिवार का चिराग बुझ गया, लेकिन पुलिस आरोपियों को बचाने की कोशिश कर रही है, जिसके कारण वे प्रदर्शन करने का मजबूर हुए। संस्कार तब तक नहीं करेंगे जब पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर लेती।

 

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना