चंडीगढ़ / प्रशासन से एमसी को मिले 150.95 करोड़, सड़कें सुधरेंगी, सेक्टरों में रुके काम होंगे शुरू



नगर निगम चंडीगढ़ (फाइल फोटो) नगर निगम चंडीगढ़ (फाइल फोटो)
X
नगर निगम चंडीगढ़ (फाइल फोटो)नगर निगम चंडीगढ़ (फाइल फोटो)

  • 50 करोड़ तुरंत जारी हुए, बाकी रुपए प्रोजेक्ट वाइज प्लानिंग सबमिट करने पर जारी होंगे
  • एमसी हाउस की 30 अक्टूबर की मीटिंग में फंड न होने का मुद‌्दा गर्माया था

Dainik Bhaskar

Nov 09, 2019, 02:22 PM IST

चंडीगढ़. नगर निगम का फाइनेंशियल क्रंच अब दूर हो गया है। प्रशासक वीपी सिंह ने एमसी को प्रोजेक्ट वाइज 150 करोड़ 95 लाख रुपए दिए जाने का एलान कर दिया। प्रशासक से मिलने के लिए मेयर राजेश कालिया काउंसलर्स के साथ पहुंचे।

 

एमसी को रोड रिकार्पेटिंग के लिए तुरंत 50 करोड़ जारी करने को कहा गया है। बाकी रुपए प्रोजेक्ट वाइज सबमिट करने पर जारी होंगे। फंड मिलने से अब शहर की टूटी सड़कों की रिकार्पेटिंग होगी। फंड की कमी के चलते शहर के रुके विकास कार्य शुरू हो जाएंगे।

 

एमसी हाउस की 30 अक्टूबर की मीटिंग में फंड न होने का मुद‌्दा गर्माया था। मीटिंग में ही काउंसलर अनिल दुबे ने निगम कमिश्नर को कह दिया था कि 'एक बार आईएएस की परीक्षा पास करके यहां आ गए, हमने तो हर पांच साल बाद चुनाव की परीक्षा देनी होती है'।

 

इसके बाद एमसी कमिश्नर प्रशासक से मिलने गए थे और उन्हें बताया था कि फाइनेंशियल क्रंच की वजह से क्या हो रहा है। इसके बाद ही अब प्रशासक ने एमसी को फंड देने का एलान किया। प्रशासक ने मेयर को भरोसा दिया कि रोड रि-कार्पेट करवाएं, आगे भी 50 करोड़ और दे देंगे।

 

मेयर कालिया ने काउंसलर्स के साथ प्रशासक से मिलकर फाइनेंशियल क्रंच का जिक्र किया। कहा कि एमसी शहर में कोई डेवलपमेंट वर्क नहीं करवा रही है। इस कारण काउंसलर को अपने-अपने वार्ड में पब्लिक से सुनना पड़ रहा है। शहर की सड़कें टूटी पड़ी हैं।

 

इस पर प्रशासक ने कहा कि रोड रिकार्पेटिंग के लिए तुरंत 50 करोड़ दिए जा रहे हैं। एडवाइजर मनोज परिदा को डायरेक्शन दे दी गई है। इसके अलावा 50 करोड़ रुपए शहर में डेवलपमेंट वर्क करवाने के लिए, 36 करोड़ 95 लाख रुपए सेक्टर-39 वाटर वर्क्स में वाॅटर सप्लाई की कैपेसिटी एक दिन करने, कजौली वाॅटर वर्क्स और जंडपुर से सेक्टर-39 तक बिछी लाइन की पेमेंट के 14 करोड़ रुपए दिए जा रहे हैं।

 

प्रशासक ने कहा कि एमसी में शामिल हुए 13 गांवों का डेवलपमेंट प्लान बनाकर प्रशासन में सबमिट करें। प्रशासन द्वारा फौरन एमसी को फंड रिलीज किया जाएगा। इन 13 गांवों की डेवलपमेंट की प्लानिंग 50 करोड़ से ज्यादा की बनेगी। क्योंकि इन गांवों में काफी काम करवाए जाने हैं। एमसी को 200 करोड़ 95 लाख रुपए की प्रशासन से सौगात मिल सकेगी।

 

50 करोड़ से ये काम होंगे

  • 2017-18, 2018-19 में पेंडिंग रोड्स की रिकार्पेटिंग हो सकेंगी
  • एमसी को दो साल की प्राथमिकता बेस पर 50 करोड़ की रिकार्पेटिंग करनी हैं

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना