आर्ट / अमरजीत ने कहा- तीन लाख में बेची थी चीनी महिला की पेंटिंग, चीन के शख्स ने 3 करोड़ 24 लाख में खरीदी



Amarjeet in the case of Art
X
Amarjeet in the case of Art

  • गवर्नमेंट म्यूजियम व आर्ट गैलरी में चल रही आर्ट एग्जिबीशन 'परिंदे'
  • आर्टिस्ट्स ने शांति की थीम पर लाइव पेंटिंग्स बनाई 

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 04:57 PM IST

चंडीगढ़. देशभर के अलग-अलग कोने से आये बेहतरीन आर्टिस्ट, जिनके स्टाइल से लेकर तकनीक, मीडियम की प्रेफरेंस और आर्टिस्टिक अप्रोच एक दूसरे से जुदा हों, उन्हें एक ही छत के नीचे अपनी क्रिएटिविटी को कला के रंग में जीवंत करते देखना एक यादगार लम्हा बनता है।

 

ऐसा ही नजारा देखने को मिला सेक्टर-10 स्थित गवर्नमेंट म्यूजियम में। आर्ट गैलरी में चल रही ग्रुप आर्ट एग्जिबीशन 'परिंदे' के दूसरे दिन हुई लाइव पेंटिंग की वर्कशॉप में। इसे आर्टिस्ट मीनाक्षी जैन और आकाश राणा ने ऑर्गेनाइज किया है। वर्कशॉप में ट्राईसिटी सहित हरियाणा, यूपी, महाराष्ट्र, कोलकाता व देश के अन्य हिस्सों से आए आर्टिस्ट्स ने 'शांति की थीम पर पेंटिंग बनाई। 

 

दिल्ली के बिजनेसमैन अमरजीत विक्की ने आर्ट में कोई फॉर्मल ट्रेनिंग नहीं ली, पर आज दुनिया भर में उनकी फैन फॉलोविंग है। ये सब हुआ महज छह महीने में। कला जगत के महारथी उनके काम को सराहा चुके हैं। अमरजीत ने बताया- छह महीने पहले स्ट्रेस के चलते डाॅक्टर ने पेंटिंग करने का सुझाव दिया। अगली अपॉइंटमेंट पर जब पेंटिंग उन्हें दिखाई तो उन्होंने खड़े होकर मुझे गले लगा लिया। मैंने एक पोट्रेट बनाया था। डाॅक्टर ने मुझसे कहा कि आप बिजनेस क्यों कर रहे हैं, आपको तो आर्ट्स परसू करनी चाहिए।

 

वे बताते है बिजनेस अच्छा चल रहा है और वैसे भी यहां आर्टिस्ट्स की कद्र कहां है, पैसा तो भूल ही जाइए। तब डाक्टर ने मुझे कुछ फेसबुक ग्रुप्स के बारे में बताया और कहा कि अपनी पेंटिंग्स को यहां पोस्ट कीजिए, यहां आपकी आर्ट को कद्रदान मिलेंगे। मैंने वैसा ही किया और आज सोशल मीडिया पर मेरे फैन पेज बन गए हैं। हर रोज देश-विदेश से ढेरों मैसेज आते हैं, एक फैन ने तो मुझे गॉड्स ओन हैंड (खुदा का हाथ) तक कह दिया। मेरी पेंटिंग्स को इंटरनेशनल अवाॅर्ड भी मिल चुके हैं।

 

अभी कुछ समय पहले ही अपने फैंस के इन्विटेशन पर मैं स्कॉटलैंड गया। अपनी पेंटिंग्स के बारे में अमरजीत ने बताया- मैं पोर्ट्रेट बनाता हूं और उनमें भी बूढ़े लोगों के पोट्रेट बनाना मुझे बेहद पसंद है क्योंकि उनके चेहरे पर काफी डिटेल्ड काम करना पड़ता है।

 

कुछ समय पहले मेरी बनाई एक चाइनीज औरत की पेंटिंग, जिसे मैंने एक भारतीय को तीन लाख में बेचा था, वही पेंटिंग उससे एक चाइनीज बिलियनेयर ने 3 करोड़ 24 लाख में खरीदी है। पर मैं पेंट सिर्फ अपनी खुशी के लिए करता हूं, पैसे के लिए नहीं। पेंटिंग ने मेरा तनाव गायब कर दिया। मैं हर रात को पेंटिंग करता हूं और बनाते-बनाते उसमें डूब जाता हूं। खाने-पीने की भी सुध नहीं रहती। मेरी वाइफ को इसी बात का मलाल है। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना