एप्लिकेशन / डीएसपी (रिटायर्ड) के खिलाफ केस दर्ज करने के लिए कोर्ट में दी अर्जी

Dainik Bhaskar

Mar 26, 2019, 02:16 PM IST



Application filed in court to register case against retired DSP.
X
Application filed in court to register case against retired DSP.
  • comment

कोर्ट ने विजय पाल सिंह को जारी किया नोटिस, सुनवाई 23 अप्रैल को

सड़क हादसे में हुई थी महिला की मौत, पति ने डीएसपी (रिटायर्ड ) विजय पाल पर लगाए हैं आरोप

चंडीगढ़. एक 67 साल के बुजुर्ग ने अपनी पत्नी की सड़क हादसे में मौत के लिए चंडीगढ़ पुलिस के रिटायर्ड डीएसपी विजय पाल सिंह को जिम्मेदार ठहराया है। उसने रिटायर्ड डीएसपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज किए जाने के लिए डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में एप्लीकेशन फाइल की है। मनीमाजरा के लखन सिंह की एप्लीकेशन पर ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट कुशल सिंगला की कोर्ट ने विजय पाल सिंह को नोटिस जारी कर दिया है। मामले की अगली सुनवाई 23 अप्रैल को होगी।

 

एप्लीकेशन में लखन सिंह ने विजय पाल के खिलाफ आईपीसी की धारा 279 (रैश ड्राइविंग), 304 (गैरादतन हत्या), 304ए(लापरवाही से मौत) और 338(दूसरों की जान को नुकसान पहुंचाना)के तहत केस दर्ज करने की मांग की है। लखन सिंह ने अपनी शिकायत में बताया कि वह सेक्टर-7 में खिलौने बेचने का काम करता है। 23 अक्टूबर 2018 को शाम करीब 5 बजे वह पंचकूला से मनीमाजरा आ रहा था।

 

वह रेहड़ी-रिक्शा पर था और साथ में उसकी पत्नी बदामी देवी भी थी। लखन सिंह ने आरोप लगाया कि जब वह मनीमाजरा मार्केट के पास पहुंचे तभी अचानक एक कार ने उनकी रेहड़ी को पीछे से टक्कर मार दी। टक्कर लगते ही उसकी पत्नी रेहड़ी से गिर गई और बुरी तरह जख्मी हो गई। लखन सिंह को भी काफी चोटें पहुंची। उन्हें मनीमाजरा के सिविल हॉस्पिटल ले जाया गया। जहां से उन दोनों को सेक्टर-32 के हॉस्पिटल रैफर कर दिया गया। पुलिस ने इस केस में डीडीआर दर्ज कर ली।

 

लखन को हॉस्पिटल से डिस्चार्ज कर दिया गया। लेकिन उसकी पत्नी की 5 दिसंबर को मौत हो गई। लखन सिंह की वकील कात्यायनी द्विवेदी ने बताया कि उसने थाने में जाकर अपनी स्टेटमेंट भी दर्ज करवाई। लेकिन पुलिस ने न तो उनकी स्टेटमेंट रिकॉर्ड की और न ही इस केस में एफआईआर दर्ज की। एडवोकेट द्विवेदी का कहना है कि विजय पाल सिंह चंडीगढ़ पुलिस से डीएसपी रिटायर हुए हैं इसलिए मनीमाजरा थाने के एसएचओ ने उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। इसलिए अब उन्हें मजबूरी में कोर्ट जाना पड़ रहा है।
 

 

COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन