पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोर्ट ने एएसआई को 4 साल कैद की सजा सुनाई, 3500 रुपए की रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया था

8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डिस्ट्रिक्ट कोर्ट्स कॉम्पलेक्स, चंडीगढ़।
  • जज ने कहा-रिश्वतखोर पुलिसवाले दो तरह के होते हैं, एक मांस खाने वाले, दूसरे घास खाने वाले
  • सेक्टर-19 थाने के एएसआई पर सीबीआई कोर्ट ने 40 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया
Advertisement
Advertisement

चंडीगढ़. 3500 रुपए की रिश्वत लेते पकड़े गए सेक्टर-19 थाने के एएसआई रहे दविंदर कुमार को सीबीआई कोर्ट ने 4 साल की सजा सुनाई। 40 हजार रुपए जुर्माना भी लगाया। सीबीआई कोर्ट के जज डॉ. सुशील कुमार गर्ग ने अपने फैसले में लिखा- 'करप्ट यानी रिश्वतखोर पुलिस अफसरों को दो कैटेगरी में बांटा जा सकता है। पहले मीट ईटर्स यानी मांस खाने वाले और दूसरे ग्रास ईटर्स यानी घास खाने वाले'।

छह साल पहले पकड़ा गया था दविंदर कुमार
सेक्टर-24 के अमनदीप सिंह की शिकायत पर सीबीआई ने दविंदर को पकड़ने के लिए ट्रैप लगाया था। अमनदीप ने शिकायत में बताया था कि 21 मई 2013 की रात वह सेक्टर-19 की मार्केट में कुछ सामान लेने गया था। उसने दुकानदार को 500 रुपए का नोट दिया। दुकानदार ने चेक किया तो पता चला कि नोट नकली था। उसने सेक्टर-19 पुलिस थाने में शिकायत दी। जांच का जिम्मा एएसआई दविंदर कुमार को सौंपा गया। दविंदर ने अमनदीप से पूछताछ शुरू कर दी। अमनदीप ने बताया कि उसने दिल्ली में अपने एक दोस्त को मोबाइल बेचा था, उसी ने उसे नकली नोट दिया होगा। एएसआई ने मामले को रफा-दफा करने के लिए रिश्वत मांगी। 3500 में सौदा तय हुआ। अमनदीप ने सीबीआई को शिकायत दे दी। दविंदर ने अमनदीप को 29 मई 2013 को थाने में बुलाया। दविंदर ने जैसे ही उससे पैसे पकड़े, सीबीआई ने उसे दबोच लिया।

एक हफ्ते में दूसरे पुलिस अफसर को हुई सजा
एक हफ्ते के अंदर चंडीगढ़ पुलिस के दूसरे पुलिस अफसर को रिश्वत मामले में सजा हुई है। सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने पिछले हफ्ते 25 हजार रुपए की रिश्वत मामले में यूटी पुलिस के पूर्व सब-इंस्पेक्टर कुलवरणजीत सिंह चीमा को 4 साल की सजा सुनाई थी। उस पर कोर्ट ने 75 हजार रुपए जुर्माना भी लगाया था। मनीमाजरा थाने में पोस्टेड रहे एसआई चीमा ने लड़ाई-झगड़े के एक मामले में केस दर्ज न करने की एवज में रिश्वत मांगी थी।
 

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज आप अपनी रोजमर्रा की व्यस्त दिनचर्या में से कुछ समय सुकून और मौजमस्ती के लिए भी निकालेंगे। मित्रों व रिश्तेदारों के साथ समय व्यतीत होगा। घर की साज-सज्जा संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत हो...

और पढ़ें

Advertisement