मोहाली गैंगरेप केस / सीसीटीवी में नजर आया गैंगरेप के आरोपियों का ऑटो, नंबर साफ नहीं, फुटेज लैब भेजे गए

सीसीटीवी फुटेज धुंधली है। ऑटो का नंबर साफ नजर नहीं आ रहा है। सीसीटीवी फुटेज धुंधली है। ऑटो का नंबर साफ नजर नहीं आ रहा है।
X
सीसीटीवी फुटेज धुंधली है। ऑटो का नंबर साफ नजर नहीं आ रहा है।सीसीटीवी फुटेज धुंधली है। ऑटो का नंबर साफ नजर नहीं आ रहा है।

  • 7 फरवरी को ऑटो में बैठी लड़की को जंगल में ले जाकर दो लोगों ने की थी ज्यादती
  • पुलिस आरोपियों के स्कैच भी तैयार करा रही है, एक आरोपी लखनऊ का रहने वाला

दैनिक भास्कर

Feb 10, 2020, 12:19 PM IST

मोहाली. 7 फरवरी की शाम ऑटो में बैठी लड़की को जबरन जंगल में ले जाकर उससे गैंगरेप के मामले में एसआईटी जांच कर रही है। सामने आया है कि पीड़ित उत्तराखंड की रहने वाली है। वह पिछले साल जॉब की तलाश में मोहाली आई थी और आजकल एक हॉस्पिटल में काम कर रही थी। जिस समय वारदात हुई उस समय लड़की सेक्टर-70 से सेक्टर-45 में एक पेशेंट के घर जाने के लिए ऑटो में बैठी थी।


रविवार को एएसपी हेड अश्वनी गोटियाल ने अपनी टीम के साथ दौरा उस पूरे एरिया का दौरा किया, जहां से पीड़िता ने सेक्टर-70 से ऑटो पकड़ा। एसआईटी ने सेक्टर-70 से लेकर वाईपीएस चौक तक जहां-जहां सीसीटीवी कैमरे लगे हैं, वहां की फुटेज निकलवाई है। वाईपीएस चौक पर कैमरे नहीं लगे थे, लेकिन फिर भी पिछले एक प्वाइंट से पुलिस को एक फुटेज मिली है, जिसमें ये ऑटो दिख रहा है। ऑटो का नंबर साफ नहीं आ रहा है, इसलिए फुटेज लैब में भेजी गई है।

एक आरोपी लखनऊ का रहने वाला
ऑटो चालक पीड़ित को दवाई दिलवाने के लिए फेज-9 ले गए थे। यहीं पीड़ित ने आवाज मारकर केमिस्ट शॉप के मालिक भरत को कहा था कि आरोपी को पकड़ो। आरोपियों के भागने के बाद भरत ने ही पुलिस को कॉल कर बुलाया था। पुलिस अब पीड़ित की निशानदेही पर दोनों आरोपियों के स्कैच भी तैयार करवा रही है। सूत्रों के अनुसार एक आरोपी लखनऊ का रहने वाला है।


पुलिस को मामला संदिग्ध लग रहा है
पुलिस के अनुसार यह मामला संदिग्ध भी लग रहा है। पीड़ित के अनुसार गैंगरेप के बाद एक आरोपी अपना मोबाइल नंबर उसे लिखवा रहा था, लेकिन उसने नहीं लिखा। फिर पीड़ित उनको दांत में दर्द के बहाने से फेज-9 लेकर आ गई। जबकि दोनों आरोपी गैंगरेप के बाद उसे दवा दिलवाने के लिए फेज-7 ले जाने के लिए कह रहे थे, लेकिन पीड़ित बोली कि उसकी पहले ही फेज-9 में दवा चल रही है। इसके बाद दोनों ऑटो चालक आरोपी पीड़ित को फेज-9 ले आए। यहां एक आरोपी युवक को पीड़ित ने मार्केट के सामने कैमिस्ट शॉप में दवा लाने के लिए भेजा और दूसरा चालक ऑटो में ही बैठा रहा। जेसे ही आरोपी केमिस्ट वाले के पास पहुंचा तो पीड़ित ने ऑटो से ही आवाज लगाई कि भईया इसे पकड़ लो...। यह बात सुनकर आरोपी वापस ऑटो की तरफ आ गया और फिर लड़की को ऑटो से उतार दोनों आरोपी वहां से भाग गए।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना