पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कैब वालों का अब बनेगा ट्राईसिटी का परमिट, पंचकूला-मोहाली में बैन होंगे डीजल ऑटो

6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सिंबोलिक फोटो
  • पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ के ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट के सीनियर ऑफिसर्स की मीटिंग में निर्णय
  • ट्राईसिटी में स्मूथ होगा पब्लिक ट्रांसपोर्ट, मीटिंग में लिए गए कई अहम फैसले

चंडीगढ़. चंडीगढ़ से मोहाली आने पर भी कमर्शियल व्हीकल मालिक को एंट्री टैक्स देना पड़ता है। इसका कैब वाले विरोध कर रहे थे। चंडीगढ़ के एडवाइजर मनोज परिदा की प्रमुखता में पंजाब, हरियाणा व चंडीगढ़ के ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट के सीनियर ऑफिसर्स की मीटिंग में इसका हल निकाला गया। ओला और उबर कैब चलाने वाली की समस्याओं को देखते हुए सिफारिश की गई है कि ट्राईसिटी बेस्ड परमिट का प्रोविजन किया जाए। मीटिंग में चर्चा हुई कि अकेले चंडीगढ़, मोहाली या पंचकूला के बारे में सोचेंगे तो पब्लिक ट्रांसपोर्ट को लेकर सही दिशा में काम नहीं हो सकेगा। इसलिए ट्राईसिटी के लिए प्लान करना होगा। फैसला किया गया कि पब्लिक ट्रांसपोर्ट को लेकर पेश आ रही दिक्कतों को ट्राईसिटी लेवल पर ही साॅल्व किया जाएगा।

ट्राईसिटी लेवल पर परमिट बनाने के लिए कमेटी का गठन, करेगी तय-कितनी फीस हाेगी और कैसे बंटेगी
कैब चलाने वाली की समस्याओं को देखते हुए सिफारिश की गई है कि ट्राईसिटी बेस्ड परमिट का प्रोविजन किया जाएगा। इसको लेकर सहमति तो मीटिंग में सभी ऑफिसर्स ने जताई है, लेकिन इस पर आगे किस तरह से काम हो सकता है और क्या फीसें इसके लिए होंगी, इसे तय करने के लिए एक कमेटी का गठन डायरेक्टर लेवल पर किया गया है। ये कमेटी अब पब्लिक ट्रांसपोर्ट के लिए चंडीगढ़ में एक ही परमिट और एक ही फीस को लेकर काम करेगी। मीटिंग में एडवाइजर ने हरियाणा के ऑफिसर्स से कहा कि वे पंचकूला में और सीएनजी पंप खोलें, ताकि चंडीगढ़ के सीएनजी पंपों में ऑटोवालों की जो भीड़ लगती है, वह खत्म हो सके।

पंचकूला-मोहाली के लिए चंडीगढ़ से जाएंगे 1000-1000 ऑटो
मीटिंग में ऑटोरिक्शा की एंट्री को लेकर चल रहे विवाद का भी मुद्दा रखा गया। फैसला किया गया कि चंडीगढ़ नंबर के 1000 ऑटो रिक्शा को पंचकूला जाने की परमिशन होगी, जबकि इसी तरह से हरियाणा नंबर के ऑटोरिक्शा जो पंचकूला में चलते हैं, वहां से 1000 ऑटो रिक्शा चंडीगढ़ आ सकेंगे। वहीं, पंजाब के साथ 500 ऑटो रिक्शा को लेकर काउंटर साइन है तो वहां के लिए भी 500-500 ऑटो बढ़ाए जाएंगे। इसे मीटिंग में मंजूरी दे दी गई है। इसके लिए प्रोसिजर बनाया जाएगा और फीस तय की जाएगी। ये सिर्फ सीएनजी पर चलने वाले ऑटोरिक्शा को ही परमिशन होगी। ये पहली बार होगा कि हरियाणा के साथ ऑटो को लेकर कोई एग्रीमेंट हो पाएगा। पंचकूला और मोहाली के बीच में ऑटो के इसी तरह से चलने को लेकर कोई फैसला नहीं हो पाया है।
 

जीरकपुर, डेराबस्सी तक भी जा सकेंगी चंडीगढ़ की स्कूल बसें 
इस मीटिंग में अहम फैसला किया गया कि अब चंडीगढ़ की सभी स्कूल बसें जीरकपुर, नयागांव, डेराबसी, खरड़ और बनूड़ तक सभी हिस्सों में जा सकेंगी। अभी तक इन बसों को सिर्फ मोहाली के एमसी एरिया में ही जाने की परमिशन थी। ऑफिसर्स के मुताबिक पहले हुए एग्रीमेंट में मोहाली लिखा गया है, लेकिन बाद में इसमें ये कह दिया गया कि सिर्फ मोहाली एरिया में इन्हें जाने की परमिशन है, न कि पूरे जिले में। इसके चलते कई तरह की दिक्कतें पेश आ रही थी। अब मीटिंग में पंजाब सरकार के आॅफिसर्स की तरफ से इसे मान लिया गया है, जिसको लेकर जल्द ही ऑफिशियल ऑर्डर भी जारी किए जाएंगे।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिवार में प्रॉपर्टी या किसी अन्य मुद्दे को लेकर जो गलतफहमियां चल रही थी आज वह किसी की मध्यस्थता से दूर होंगी। जिसकी वजह से परिवार का माहौल शांतिपूर्ण हो जाएगा। घर में नवीनीकरण या परिवर्तन सं...

और पढ़ें