ट्रक से हथियार बरामदगी का मामला / आतंकी हथियारों सहित अमृतसर से पठानकोट तक स्टेट व नेशनल हाईवे पर 17 नाके पार किए



ट्रक में गत्ते के डिब्बे रखे हुए थे जिससे हथियार बरामद किए गए ट्रक में गत्ते के डिब्बे रखे हुए थे जिससे हथियार बरामद किए गए
X
ट्रक में गत्ते के डिब्बे रखे हुए थे जिससे हथियार बरामद किए गएट्रक में गत्ते के डिब्बे रखे हुए थे जिससे हथियार बरामद किए गए

  • आईबी ने 10 दिन पहले किया था अलर्ट, बेखौफ गुजर गए आतंकी
  • लखनपुर बाॅर्डर तक सभी सीसीटीवी फुटेज खंगालने में जुटी पुलिस

Dainik Bhaskar

Sep 13, 2019, 07:51 AM IST

चंडीगढ़. जम्मू के कठुआ में पकड़े गए आतंकियों के बारे में आईबी ने 10 दिन पहले ही अलर्ट कर दिया था। इसके बावजूद पंजाब पुलिस व अन्य खुफिया एजेंसियों ने सतर्कता नहीं दिखाई और आतंकी हथियारों सहित अमृतसर से पठानकोट तक स्टेट और नेशनल हाईवे पर लगभग 17 नाके पार कर गए। इनमें 13 बड़े नाके थे, जबकि चार छोटे नाके। इन सभी पर आतंकी पंजाब पुलिस को चकमा देने में कामयाब रहे। कठुआ में पकड़े जाने के बाद पुलिस ने ट्रक में सवार आतंकियों से छह राइफलें, मैगजीन, जिंदा कारतूस और नकदी बरामद की है। अब पंजाब पुलिस ने जांच के लिए दो टीमें गठित की हैं जो अमृतसर और पठानकोट तक पूरे मामले की जांच में जुट गई है जबकि आईबी की टीम अमृतसर पहुंच गई है। 

 

अब तक की जांच में पता चला है कि ट्रक अमृतसर से रवाना हुआ था। अमृतसर से पठानकोट तक 17 नाके हैं। इन नाकों पर सीसीटीवी कैमरे भी लगे हैं। जांच में जुटी टीमें अब अमृतसर शहर से लेकर लखनपुर बार्डर तक लगे सभी सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाला रही है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक अब तक सात संदिग्धों को हिरासत में लिया गया है और चंडीगढ़ से गई आईबी की टीम अमृतसर में उनसे पूछताछ कर रही है। एसपी पठानकोट ने बताया है कि  कि यह ट्रक कई दिनों से अमृतसर और तरनतारन में रुका रहा है। और इस नेटवर्क में दो तीन लोग शामिल हैं। यह भी शक जाहिर हो रहा है कि आखिर यह ट्रक किस रास्ते से लखनपुर पहुंचा क्योंकि कोई और रास्ता है ही नहीं। पुलवामा में रजिस्टर्ड ट्रक में गत्ते के डिब्बे रखे हुए थे और इनमें ही चार एके-47 और दो एके-56 राइफलें, 6 मैगजीन, 180 जिंदा कारतूस और 11 हजार रुपये की इंडियन कंरसी बराम हुई है।
 

शुरू हुई इंटरनल इन्क्वायरी
पंजाब पुलिस राज्य में 550वें प्रकाश पर्व समागम की तैयारियों को देखते हुए इसे गंभीरता से देख रही है। समागम में देश विदेश से लाखों की संगत सुल्तानपुर लोधी से डेरा बाबा नानक पहुंचेगी। सुरक्षा में एेसी चूक राज्य के लिए बेहद गंभीर हो सकती है। डीजीपी कार्यालय ने आईजी स्तर के अिधकारी को फेलियर की इंटरनल जांच के आदेश दिए हैं। 
 

नार्थ जोन इंटरस्टेट मीटिंग के फैसलों की अनदेखी 
अगस्त में चंडीगढ़ में नार्थ जोन की इंटरस्टेट बैठक हुई थी। इसमें छह राज्यों की पुलिस को खुफिया इनपुट शेयर करने और ज्वाइंट आपरेशन चलाने का फैसला हुआ था लेकिन मामले में कठुआ पुलिस ने पंजाब पुलिस से अलर्ट शेयर नहीं किया। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना