--Advertisement--

चंडीगढ़ / जज ने फैसले में लिखा- शराब कोई जहर नहीं, अगर कम मात्रा में ली जाए



Chandigarh High Court said alcohol is not poison
X
Chandigarh High Court said alcohol is not poison

  • इंश्योरेंस कंपनी के मेडिकल क्लेम खारिज करने पर कंज्यूमर फोरम ने सुनाया फैसला
  • कंज्यूमर के हॉस्पिटल में एडमिट होने से पहले शराब पीने पर कंपनी ने क्लेम देने से मना किया था

Dainik Bhaskar

Nov 10, 2018, 08:39 AM IST

चंडीगढ़. इंश्योरेंस कंपनी ने उपभोक्ता का डेढ़ लाख रुपए का मेडिकल क्लेम इसलिए खारिज कर दिया था कि उसने हॉस्पिटल में भर्ती होने से एक दिन पहले शराब पी थी। ऐसा करने पर कंज्यूमर फोरम ने कंपनी को न सिर्फ 1 लाख 58 हजार 25 रुपए लौटाने, 25 हजार रुपए हर्जाना देने और 10 हजार रुपए मुकदमा खर्च देने के निर्देश दिए हैं। जज ने फैसले में लिखा, ‘‘एल्कोहल कोई जहर नहीं है, अगर उसे कम मात्रा में लिया जाए। शराब में पानी और शुगर जैसे कंटेंट भी होते हैं।’’ फोरम ने मोहाली के सरबजीत सिंह काहलों की शिकायत पर द न्यू इंडिया इंश्योरेंस कंपनी के खिलाफ ये फैसला सुनाया है।

 

मेडी-क्लेम पॉलिसी लेने वाले काहलों ने शिकायत में कहा था कि पिछले साल 20 जून को पेट में तकलीफ होने पर उन्हें होप क्लीनिक में दाखिल किया गया। वहां से फोर्टिस हॉस्पिटल मोहाली रेफर कर दिया गया। उनके बेटे ने इस बारे में इंश्योरेंस कंपनी को जानकारी दी। हॉस्पिटल ने 1 लाख 58 हजार 25 रुपए की पेमेंट लेने के बाद उन्हें डिस्चार्ज किया। छुट्‌टी मिलने के बाद इंश्योरेंस कंपनी ने उनका क्लेम रिजेक्ट कर दिया।

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..