तैयारी / चीन जाएंगे चंडीगढ़ के अफसर, जानेंगे कैसे इलेक्ट्रिक व्हीकल्स शहर में चलाएं

प्रतीकात्मक फोटो। प्रतीकात्मक फोटो।
X
प्रतीकात्मक फोटो।प्रतीकात्मक फोटो।

  • इलेक्ट्रिक बसें और पब्लिक ट्रांसपोर्टेशन के लिए अफसर हफ्ते के टूर पर जाएंगे
  • चीन इलेक्ट्रिक व्हीकल्स की सेल में प्रमुख देशों में शुमार है

Dainik Bhaskar

Dec 03, 2019, 10:31 AM IST

चंडीगढ़. चीन इलेक्ट्रिक व्हीकल्स की सेल में प्रमुख देश है। इसलिए अब चंडीगढ़ प्रशासन से भी तीन अफसर चीन जाएंगे, ताकि जानकारी ली जाए कि वहां पर किस तरह से इलेक्ट्रिक व्हीकल्स को सिस्टम में शुरू किया गया। साथ ही पब्लिक ट्रांसपोर्टेशन को किस तरह से तरह से फ्यूल से इलेक्ट्रिक में शिफ्ट किया गया, इसको लेकर जानकारी ली जाएगी।

15 से 21 दिसंबर तक चंडीगढ़ प्रशासन से ट्रांसपोर्ट सेक्रेटरी, डायरेक्टर और एडवाइजर इस स्टडी टूअर पर जाएंगे। दुनिया में चाइना इलेक्ट्रिक व्हीकल्स के लिए सबसे बड़ी मार्केट है, जहां पर पिछले साल हाईब्रिड और बैटरी ऑपरेटेड व्हीकल्स की सेल 1.2 मिलियन थी। वहां शेन्झेन सिटी में करीब 12 मिलियन लोग रहते हैं, जहां पर करीब 16 हजार इलेक्ट्रिक बसें चलती हैं, जबकि अगले साल यानि 2020 तक चीन के 30 शहरों में पब्लिक ट्रांसपोर्ट को पूरी तरह से इलेक्ट्रिक माॅड्यूल पर शिफ्ट करने का टारगेट रखा गया है।

अब चंडीगढ़ में भी करीब 40 इलेक्ट्रिक बसें खरीदने का फैसला किया गया था, लेकिन अभी तक कई बार टेंडर प्रोसेस करने के बावजूद इसे लेकर कोई सफलता नहीं मिली है। इसको लेकर ट्रायल भी पहले प्रशासन कर चुका है, जिसमें चीन की एक कंपनी की बस का भी ट्रायल किया गया था, लेकिन उसके बाद से लेकर अभी तक कुछ खास उसमें नहीं हो पाया है।

इस महीने कई अफसर रहेंगे शहर से बाहर
इस महीने प्रशासन के कई अफसर शहर से बाहर होंगे। इसमें तीन अफसर तो मसूरी में ट्रेनिंग के लिए जा चुके हैं। इनमें स्पेशल सेक्रेटरी फाइनेंस हरीश नैय्यर, एमसी स्पेशल कमिश्नर संजय झा और सीईओ चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड यशपाल गर्ग एक महीने की ट्रेनिंग के लिए गए हैं। इसके अलावा इसी हफ्ते चीफ कंजर्वेटर ऑफ फाॅरेस्ट देबिंद्र दलाई स्पेन में आयोजित की जा रही काॅन्फ्रेंस में हिस्सा लेंगे, जिसके बाद एडवाइजर मनोज परिदा भी इस काॅन्फ्रेंस में हिस्सा लेने के लिए जाएंगे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना