स्पोर्ट्स / चंडीगढ़ के 9 प्लेयर्स बिना ट्रायल के केरला ब्लास्टर्स में



Chandigarh's 9 players made an entry in Kerala blasters without any trial.
X
Chandigarh's 9 players made an entry in Kerala blasters without any trial.

  • चंडीगढ़ फुटबॉल एकेडमी के ट्रेनीज को ब्लास्टर्स एफसी ने दिया पांच साल का कॉन्ट्रैक्ट
  • क्लब टीम से खेलने के भी दरवाजे खुले

Dainik Bhaskar

Aug 21, 2019, 11:43 AM IST

चंडीगढ़. चंडीगढ़ फुटबॉल एकेडमी के बेसिक्स की तारीफ पूरे देश में होती है और देश के कई स्टार प्लेयर इस शहर ने दिए हैं। देश के स्टार डिफेंडर संदेश झिंगन, फीफा वर्ल्ड कप के एकमात्र गोल स्कोरर जैक्सन सिंह इसी एकेडमी के ट्रेनी रहे हैं।

 

अब उसी बेसिक्स के दम पर एकेडमी के नौ अंडर-17 प्लेयर्स को केरला एफसी ने अपने साथ जोड़ लिया। क्लब के दस प्लेयर्स को क्लब ने कॉन्ट्रैक्ट देना था लेकिन एक प्लेयर का मेडिकल क्लियर नहीं हो पाया और 9 प्लेयर्स को क्लब ने 5 साल का कॉन्ट्रैक्ट देकर अपने साथ जोड़ लिया। इंडियन टीम की जान रहने वाले चंडीगढ़ के प्लेयर्स अब केरला एफसी को स्ट्रॉन्ग करेंगे।


बिना ट्रायल के जुड़े क्लब के साथ: चंडीगढ़ के प्लेयर्स के बेसिक्स इतने स्ट्रॉन्ग माने जाते हैं कि क्लब ने उनके ट्रायल्स भी लेने जरूरी नहीं समझे। केरला ब्लास्टर्स के कोच रफीक पहले ओजोन एफसी के साथ थे और वहां भी चंडीगढ़ के प्लेयर्स उनकी टीम से खेल रहे थे। उन्होंने कहा कि मैंने चंडीगढ़ के प्लेयर्स को काफी अच्छे से देखा है और यहां के प्लेयर्स अच्छे ही होते हैं। ट्रायल लेने की जरूरत नहीं है और प्लेयर्स को अपनी टीम में शामिल कर लेना चाहिए। क्लब मैनेजर कुछ दिन पहले चंडीगढ़ आए और उन्होंने सभी 10 प्लेयर्स का मेडिकल कराया। इनमें से नौ प्लेयर्स ने टेस्ट पास किया और उन्हें क्लब ने अपने खेमे में शामिल कर दिया। कोच ने कहा कि केरला ब्लास्टर्स की मेन टीम के कोच संदेश जिंगन हैं जो चंडीगढ़ के ट्रेनी रहे हैं। वहीं जैक्सन सिंह भी चंडीगढ़ के ही हैं जिन्होंने फीफा वर्ल्ड कप में एकमात्र गोल दागा है।

करंट बैच के सभी प्लेयर्स अच्छी टीमों में: चंडीगढ़ फुटबॉल एकेडमी के चीफ कोच हरजिंदर सिंह प्लेयर्स के सलेक्शन से काफी खुश हैं। उन्होंने कहा कि मौजूदा बैच के सभी प्लेयर्स अच्छी टीमों में खेल रहे हैं और यही हमारी सबसे बड़ी कामयाबी है। हमारे नौ प्लेयर्स को केरला ब्लास्टर्स ने साइन कर लिया है जबकि पांच प्लेयर्स पहले ही नेशनल टीम में शामिल हैं। इसके अलावा दो प्लेयर्स इंडियन स्कूल फुटबॉल टीम में शामिल हैं जबकि एक प्लेयर बेंगलुरु एफसी ने साइन किया है। चंडीगढ़ के प्लेयर्स की जो चीज स्ट्रॉन्ग है वो ही उन्हें सफल बना रही है। चंडीगढ़ ने हमेशा देश को अच्छे प्लेयर्स दिए हैं और ये सिलसिला आगे भी जारी रहेगा।


जनरल जैकब का ड्रीम पूरा हो रहा है: यूटी स्पोर्ट्स डिपार्टमेंट में डायरेक्टर स्पोर्ट्स तेजदीप सिंह ने कहा कि चंडीगढ़ के एडमिनिस्ट्रेटर जनरल जैकब ने चंडीगढ़ फुटबॉल एकेडमी को शुरू करते हुए ड्रीम देखा था कि यहां से हम अच्छे प्लेयर्स निकालेंगे। हम लगातार उनके ड्रीम के लिए मेहनत कर रहे हैं और कोचेज के हार्डवर्क की बदौलत ही प्लेयर्स अच्छे क्लब के साथ जुड़ते जा रहे हैं। एक क्लब का नौ प्लेयर्स को साइन करना बहुत बड़ी बात है। मैं सभी प्लेयर्स और उन्हें तैयार करने वाले कोचेज को बधाई देता हूं। मैदान में की उनकी मेहनत की वजह से ही से सफलता हमें मिल सकी है।

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना