फैसला / सड़क हादसे में मौत के मामले में हिमाचल रोडवेज को देना पड़ेगा 20 लाख मुआवजा



Compensation found in Himachal Bus Accident
X
Compensation found in Himachal Bus Accident

  • पिछले साल शिमला के पास हुआ था एक्सीडेंट, बस में सवार महिला की हुई थी मौत
  • सुदेश कुमार ने हिमाचल रोडवेज और बस ड्राइवर के खिलाफ क्लेम पिटीशन फाइल की थी

Dainik Bhaskar

Jul 07, 2019, 11:50 AM IST

चंडीगढ़. शिमला के पास पिछले साल हुए एक एक्सीडेंट में जान गंवाने वाली प्रियंका शर्मा के परिवार को मोटर एक्सीडेंट क्लेम ट्रिब्यूनल ने 20 लाख रुपए मुआवजा दिए जाने का फैसला सुनाया है। प्रियंका के पति सुदेश कुमार ने हिमाचल रोडवेज और बस ड्राइवर के खिलाफ क्लेम पिटीशन फाइल की थी।

 

सुदेश और उनकी पत्नी प्रियंका हिमाचल रोडवेज की बस में कहीं जा रहे थे लेकिन ड्राइवर की लापरवाही के कारण बस का एक्सीडेंट हो गया था। सुदेश ने अपनी शिकायत में बताया कि 30 सितंबर 2018 को वे अपने परिवार के साथ अपने गांव चोपाल जा रहे थे। वे हिमाचल रोडवेज की बस में सवार थे। सुदेश के साथ उनकी पत्नी प्रियंका और दो बेटियां भी थीं। बस को कांगड़ा का रविंदर सिंह चला रहा था। वह बस को बड़ी ही लापरवाही और तेज रफ्तार से चला रहा था। जिस कारण अचानक बस का कंट्रोल बिगड़ गया और बस एप्पल गार्डन में जा गिरी।

 

बस में सवार यात्री बुरी तरह जख्मी हो गए। सुदेश कुमार और उनकी पत्नी प्रियंका को भी काफी चोटें पहुंची। उन्हें पहले चोपाल के सिविल हॉस्पिटल में एडमिट किया गया लेकिन वहां से उन्हें आईजीएमसी शिमला रैफर कर दिया गया। प्रियंका की हालत काफी बिगड़ गई और उन्होंने दम तोड़ दिया। पुलिस ने बस ड्राइवर के खिलाफ आईपीसी की धारा 279, 337 और 304ए के तहत केस दर्ज कर लिया।

 

सुदेश ने याचिका में कहा कि वह गवर्नमेंट स्कूल में टीचर हैं और उनकी महीने की सेलरी 45 हजार रुपए है। सुदेश ने कहा कि इस हादसे के बाद से वे चल-फिर भी नहीं पा रहे हैं। उनके इलाज में 2 लाख रुपए से ज्यादा का खर्च हो गया है। इस हादसे में उनकी पत्नी की मौत हो गई। उन्होंने ट्रिब्यूनल से 40 लाख रुपए का क्लेम दिए जाने की मांग की। ट्रिब्यूनल ने सभी पक्षों को सुनने के बाद सुदेश के परिवार को 20 लाख 14 हजार रुपए क्लेम दिए जाने का फैसला सुनाया।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना