चंडीगढ़ / पीयू प्रोफेसर की सेक्सुअल हरासमेंट की शिकायत पर फैसला सुरक्षित



Decision kept safe on sexual harassment complaint of PU Professor.
X
Decision kept safe on sexual harassment complaint of PU Professor.

  • हाईकोर्ट द्वारा जांच कमेटी गठित करने की मांग

Dainik Bhaskar

Sep 06, 2019, 06:35 PM IST

चंडीगढ़ (ललित कुमार). पंजाब यूनिवर्सिटी (पीयू) की वरिष्ठ महिला प्रोफेसर की सेक्सुअल हरासमेंट की शिकायत की निष्पक्ष जांच कराए जाने की मांग संबंधी याचिका पर शुक्रवार को सभी पक्षों को सुनने के बाद पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट ने मामले पर फैसला सुरक्षित रख लिया।

 

कहा गया कि कोर्ट जो भी कमेटी गठित करेगा उसके सामने वे किसी भी तरह की जांच को स्वीकार करेंगे। कहा गया कि मौजूदा कमेटी से उन्हें न्याय की उम्मीद नहीं है। कोर्ट द्वारा कमेटी गठन पर पूर्व वीसी की तरफ से भी कोई आपत्ति दर्ज नहीं की गई।

 

बता दें कि मामले की जांच से जुड़ी पीयू की कमेटी को हाईकोर्ट ने फिलहाल आगे कोई कार्रवाई न करने को कहा था। केंद्र सरकार की तरफ से इसका विरोध करते हुए कोर्ट में कहा गया कि मौजूदा कमेटी कानून के मुताबिक बनाई गई है और इसे जारी रखा जाए।याचिका में महिला प्रोफेसर ने कहा है कि उनकी शिकायत की जांच के लिए चांसलर किसी ऐसे नाम का चयन करें जिसका पीयू में दखल न हो।

 

याचिका में कहा गया कि पूर्व वाइस चांसलर (वीसी) को उनके पद पर तीन साल की एक्सटेंशन मिलने के दौरान याची को काफी परेशानी झेलनी पड़ी। पूर्व वीसी उन्हें छूकर और छेड़ते हुए कमेंट करते थे जो उनके लिए असहनीय था। इसे लेकर वे मानसिक रूप से भी काफी परेशान रही और लोगों के सामने शर्मसार भी होना पड़ा।

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना