• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Demand of death sentence for Irfan already sentenced to life imprisonment in the rape case, hearing on Thursday.

चंडीगढ़ / रेप केस में पहले ही उम्रकैद की सजा पा चुके इरफान के लिए अब फांसी की सजा की मांग, गुरुवार को सुनवाई

Demand of death sentence for Irfan already sentenced to life imprisonment in the rape case, hearing on Thursday.
X
Demand of death sentence for Irfan already sentenced to life imprisonment in the rape case, hearing on Thursday.

  • सरकारी वकील ने ऑटो गैंगरेप मामले में दोषी मोहम्मद इरफान की सजा बढ़ाने के लिए कोर्ट में दी एप्लीकेशन
  • एक अन्य मामले में इरफान को हो चुकी है उम्रकैद

दैनिक भास्कर

Aug 07, 2019, 06:22 PM IST

चंडीगढ़. मोहम्मद इरफान नाम के एक शख्स ने एक नहीं बल्कि दो लड़कियों की जिंदगी को खराब किया। इसलिए उसके लिए सरकारी वकील ने फांसी की सजा की मांग की है। इरफान को सेक्टर-29 में हुए ऑटो गैंगरेप मामले में कोर्ट दोषी करार दे चुकी है। जबकि इरफान 2017 में सेक्टर-53 में हुए गैंगरेप में पहले ही उम्रकैद की सजा पा चुका है। ऐसे में प्रॉसिक्यूशन ने उसकी सजा को बढ़ाने के लिए कोर्ट में एप्लीकेशन दी है। जिस पर गुरुवार को सुनवाई होगी।


पिछले हफ्ते एडिशनल डिस्ट्रिक्ट एंड सेशंस जज पूनम आर. जोशी की कोर्ट ने ऑटो गैंगरेप मामले में मोहम्मद इरफान और कमल हसन को दोषी करार दिया था। इन दोनों को बुधवार को सजा सुनाई जानी थी। लेकिन इससे पहले ही सरकारी वकील ने कोर्ट में एप्लीकेशन दे दी। जिसमें उन्होंने कहा कि मोहम्मद इरफान को एक केस में पहले ही उम्रकैद हो चुकी है। इसलिए उस पर आईपीसी की धारा 376-ई भी लगानी जानी चाहिए। कोर्ट ने इरफान के वकील को इस पर जवाब देने के लिए कहा है।


फांसी की सजा का प्रावधान है 376-ई में: निर्भया केस के बाद देश में द क्रिमिनल लॉ(अमेंडमेंट) एक्ट, 2013 लाया गया था। इस लॉ में रेप की धाराओं को बढ़ा दिया गया था जिसमें 376ई को जोड़ा गया। धारा 376-ई में फांसी की सजा का प्रावधान है। ये धारा उन अपराधियों के खिलाफ लगाई जाती है जो पहले भी रेप केस में सजा पा चुके होते हैं।

 

ये था मामला: 3 दिसंबर 2016 की रात आठ बजे 21 साल की लड़की अपने ऑफिस से घर जा रही थी। उसने पिकाडली चौक से ऑटो लिया। ऑटो चालक मोहम्मद इरफान ने लड़की को घर पहुंचाने की बजाय ऑटो को सेक्टर-29 के जंगल की तरफ ले गया। ऑटो में इरफान के साथ उसका साथी कमल हसन भी था। उन्होंने वहां चाकू की नोक पर लड़की के साथ गैंगरेप किया। पहले पुलिस ने इस केस में वसीम मलिक नाम के युवक को गिरफ्तार कर लिया। लेकिन एक साल बाद इरफान ने ही अपने दो अन्य साथियों के साथ मिलकर एक और गैंगरेप कर दिया। लेकिन इस बार वह पकड़ा गया और उसने सेक्टर-29 वाले रेप को भी कबूल कर लिया। बाद में वसीम मलिक को कोर्ट से रिहा कर दिया गया था।

 

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना