--Advertisement--

विचार-विमर्श / पंजाब में 50 नशा तस्करों व 485 भगोड़ों की लिस्ट तैयार, ईडी की भी लेगी पुलिस



DGP Suresh Addressed the meeting of all bodies of Punjab Police at Mohali
X
DGP Suresh Addressed the meeting of all bodies of Punjab Police at Mohali

  • स्पेशल टॉस्क फोर्स के गठन के डेढ़ साल बाद हुई मोहाली में तीनों विंगों की बैठक
  • एसटीएफ चीफ मोहम्मद मुस्तफा ने कहा, एसटीएफ स्वतंत्र बॉडी नहीं

Dainik Bhaskar

Oct 13, 2018, 07:38 PM IST

मोहाली। पंजाब में नशे पर नकेल कसने के लिए पंजाब पुलिस, इंटेलिजेंस विंग व ब्यूरो ऑफ इंवेस्टिेगशन मिलकर काम करेंगे। पंजाब में स्पेशल टॉस्क फोर्स (एसटीएफ) के गठन के डेढ़ साल बाद पहली बार तीनों विंगों की बैठक शनिवार को मोहाली में हुई, जिसमें पंजाब पुलिस महानिदेशक सुरेश अरोड़ा ने कहा कि सभी विंगों ने मिलकर 50 नशा तस्करों की एक सूची तैयार की है। इसके अलावा 485 भगोड़े नशा तस्करों की धरपकड़ शुरू कर दी गई है। इसके लिए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की भी मदद ली जाएगी।

 

उन्होंने कहा कि इस बैठक का उद्देश्य सिर्फ इतना है कि तीन विंग आपस में मिलकर काम करें। इसके साथ-साथ किसी भी तरह की सूचना का आदान-प्रदान हो, ताकि नशे पर नकेल कसी जा सके। उन्होंने कहा कि पिछले एक महीने से पंजाब के अलग-अलग जिलों में थाना प्रभारियों से लेकर मंझौले कर्मचारियों से भी बात की गई है।

 

तस्करी में शामिल कर्मचारियों को नहीं बख्शेंगे: पुलिस महानिदेशक ने सवाल के जवाब में कहा कि ये नहीं कहा जा सकता कि पुलिस कर्मचारियों का नशा तस्करों के साथ किसी तरह का तालमेल नहीं है। हर विभाग में काली भेड़ें होती हैं, लेकिन विभाग में किसी भी कर्मचारी की नशा तस्करी रैकेट में शामिल होने की बात सामने आने पर फौरन उसे नौकरी से बर्खास्त किया जाएगा। इस दौरान एसटीएफ चीफ मोहम्मद मुस्तफा ने कहा कि एसटीएफ स्वतंत्र बॉडी नहीं है। पंजाब पुलिस महानिदेशक के साथ तालमेल बनाकर ही काम कर रही है।

 

कश्मीरी स्टूडेंट्स से नहीं भेदभाव: पंजाब पुलिस महानिदेशक ने कहा कि जालंधर में जो स्टूडेंट्स पकड़े गए हैं। उनसे पूछताछ जारी है। उन्होंने कहा कि किसी भी स्टूडेंट्स से भेदभाव नहीं किया जाएगा। जांच में जो भी दोषी होगा उसे सजा मिलेगी। उन्होंने कहा कि आज सिर्फ ड्रग्स को लेकर ही बात करेंगे।

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..