चंडीगढ़ / 6 साल बाद छतबीड़ जू में चार शावकों का जन्म



जू में दीया ने 4 शावकों को जन्म दिया जू में दीया ने 4 शावकों को जन्म दिया
X
जू में दीया ने 4 शावकों को जन्म दियाजू में दीया ने 4 शावकों को जन्म दिया

  • दीया नाम की टाइगर ने 4 बच्चों को दिया जन्म
  •  दीया अमन की युवा जोड़ी का परिवार अब 6 सदस्यों का हुआ

Dainik Bhaskar

Nov 18, 2019, 12:12 PM IST

जीरकपुर. छतबीड़ जू से एक अच्छी खबर आई है। जू के लोकप्रिय टाइगर्स के जोड़े अमन और दीया का कुनबा अब बढ़ गया है। दीया ने 4 शावकों को जन्म दिया है। यह युवा जोड़ी जू में आने वाले टूरिस्ट के लिए खास आकर्षण का केंद्र रहती है। अब इनकी संख्या 2 से बढ़कर 6 हो गई है। यह युवा जोड़ी आज पेरेंट्स बन गई है।

 

दीया ने 4 शावकों को जन्म दिया  

छतबीड़ जू की व्हाइट टाइगर दीया ने आज तड़के 4 शावकों को जन्म दिया। जू में पिछले 3 दिनों से दीया को सुरक्षित और सफल डिलीवरी के लिए अच्छे इंतजाम किए गए थे। दीया पर पशु चिकित्सा और पशु प्रबंधन विंग ने पूरी नजर रखी थी। शावकों के जन्म से पहले दीया की देखभाल और बाद में नवजात शावकों की देखभाल के लिए पूरी तैयारी की गई थी।

 

दीया को लेटने, सोने के लिए जू में अलग से व्यवस्था की गई थी। 6 साल पहले हैली नाम की टाइगर ने यहां शावकों को जन्म दिया था।

 

जू प्रबंधन ने शावकों को सुरक्षित जगह रखा

जू प्रशासन ने जन्में शावकों की देखभाल के लिए सुरक्षित जगह पर रख दिया है। उनकी पूरी देखभाल की जा रही है। 102 दिन की दोस्ती के बाद दीया और अमन पेरेंटस बने। जू की टीम के प्रयास से यह संभव हो सका। जू की टीम सभी शावकों के सरवाइब रहने और इस सर्दी को सफलतापूर्वक पार करने के लिए सभी आवश्यक प्रबंध कर रही है।

 

दीया और शावकों को 3 महीने के लिए सर्वोत्तम संभव और संक्रमण मुक्त वातावरण बनाने के लिए सख्त देखभाल में महत्वपूर्ण देखभाल प्रबंधन के तहत रखा जाएगा।

 

सीसीटीवी से रखी जा रही थी नजर.

दीया की निगरानी सीसीटीवी के माध्यम से लगातार की जा रही थी। आज 12.30 बजे के बाद, दीया में क्यूबिंग के लक्षण दिखाने शुरू कर दिए और एक के बाद एक चार शावकों को जन्म दिया। सभी को जन्म देने के बाद दीया ने मां का रोल निभाते हुए अपने शावकों को प्यार किया और सभी नवजात शावकों की देखभाल की। मां बनकर अपने शावकों की गर्मजोशी के साथ अपने पास सुरक्षित तरीके से रखा। शावकों ने दो घंटे के बाद करीब 6 बजे सुबह दूध पीना शुरू कर दिया और अपनी मां से लिपटने लगे।

 

उच्चाधिकारियों ने टीम को दी बधाई

छह साल के बाद, छतबीड़ जू के कर्मचारियों और श्रमिकों ने टाइगर के सफल प्रजनन को पूरे मन से सफल बनाया। मुख्य वन्यजीव वार्डन और विभाग के उच्च अधिकारियों ने जू टीम को उनके समर्पित प्रयासों के लिए बधाई दी।

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना