चंडीगढ़ / ब्रांडेड कंपनियों के प्रिंटेंट पैकेटों में बेचे जा रहे थे सस्ते प्रोडक्ट्स, फैक्टरी मालिक गिरफ्तार



नकली सामान असली प्रिंटेंट पेकिंग में नकली सामान असली प्रिंटेंट पेकिंग में
X
नकली सामान असली प्रिंटेंट पेकिंग मेंनकली सामान असली प्रिंटेंट पेकिंग में

  • टाटा नमक, वाॅशिंग पाउडर टाइड, सर्फ एक्सेल और आशीर्वाद आटे के प्रिंटेड खाली पैकेट व बोरे बरामद किए

Dainik Bhaskar

Oct 11, 2019, 04:28 PM IST

डेराबस्सी. डेराबस्सी के गांव सुंडरा में कई सस्ते प्रोडक्ट तैयार कर ब्रांडेड कंपनियों के पैकेटों में भरकर बाजार में सप्लाई किए जा रहे थे। पुलिस ने फैक्टरी मालिक गोपाल कृष्ण निवासी मनीमाजरा को गिरफ्तार कर केस दर्ज कर लिया है। पुलिस ने छापा मारने पर फैक्टरी से करीब 15 टन नमक, 600 किलो सर्फ व ब्रांडेड कंपनियों की खाली बोरियां व पैकेट बरामद किए।

 

इनमें टाटा नमक, वाॅशिंग पाउडर टाइड, सर्फ एक्सेल और आशीर्वाद आटे के प्रिंटेड खाली पैकेट व बोरे शामिल हैं। मुबारिकपुर पुलिस से एएसआई नरपिंदर सिंह ने बताया कि ब्रांडेड कंपनियों की डुप्लीकेसी रोकने के लिए सक्रिय इन्वेस्टिगेशन एंड डिटेक्टिव सर्विसेज के आईओ राजिंदर सिंह ने पुलिस से शिकायत की थी कि गांव सुंडरा में नकली सामान ब्रांडेड कंपनियों के पैकेटों में भरकर सस्ते दाम में बाजार में बेचने का धंधा किया जा रहा है।

 

पुलिस ने सर्विसेज की टीम के साथ मौके पर छापा मारा। सुंडरा में एनआरआई स्कूल के सामने दो दुकानों में करीब छह लोग सस्ता सामान ब्रांडेड कंपनियों के पैकटों में भरने में जुटे थे। इनमें दो युवक और महिलाओं के अलावा एक छोटी बच्ची भी शामिल थी। बाहर फैक्टरी के नाम पते बारे का कोई बोर्ड भी नहीं था।

 

मौके पर ही फैक्टरी मालिक को कार समेत काबू कर लिया गया। राजिंदर सिंह ने बताया कि मौके पर 50 किलो की पैकिंग वाले टाटा नमक के 500 कट्‌टे बरामद किए गए। 

 

फैक्टरी में एक बच्ची समेत 6 लोग कर रहे थे पैकिंग
फैक्टरी में बाबा रामदेव नामक नमक की बोरियां भी बरामद की गईं, जिन्हें महंगे ब्रांडेड टाटा नमक के पैकेटों में भरकर उसका वजन कर एक तरफ जमा किया जा रहा था। 50 किलो टाटा नमक की बोरी का दाम 850 रुपए है, जिसका नकली पैकिंग वाला नमक बाजार में मात्र 500 रुपए मिल रहा था। यानी बिना दस्तावेज, बिलिंग, वैट व जीएसटी के 40 फीसदी तक मुनाफा कमाया जा रहा था और प्रोडक्ट की गुणवत्ता को कोई पता नहीं है।

 

एएसआई के अनुसार पुलिस ने कॉपीराइट एक्ट के तहत गोपाल कृष्ण के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है, जबकि धोखाधड़ी व मिलावट की धाराएं जोड़ने से पहले पुलिस मामले की विस्तार से तफ्तीश कर रही है। आरोपी की कार भी पुलिस ने जब्त कर ली है जिसमें माल सप्लाई किया जाता है।
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना