--Advertisement--

फैसला / भर्ती घोटाले के दोषी कटवाल को लेकर कंडा जेल पहुंची पुलिस, रहेंगे आम कैदियों के साथ



Former IAS Katwal will have to complete his imprisonment as normal
X
Former IAS Katwal will have to complete his imprisonment as normal
  • 80 वर्षीय कटवाल ने 80 साल की उम्र का लिहाज कर खाना उनकी लिस्ट के मुताबिक देने को कहा

Dainik Bhaskar

Sep 26, 2018, 08:26 PM IST

शिमला। हिमाचल प्रदेश अधीनस्थ सेवाएं चयन बोर्ड (अब कर्मचारी चयन आयोग) हमीरपुर में करीब 16 साल पहले हुए भर्ती घोटाले में गिरफ्तार पूर्व चेयरमैन एसएम कटवाल को सजा काटने के लिए बुधवार को आदर्श जेल कंडा लाया गया। कटवाल को जेल में किसी तरह का कोई वीआईपी ट्रीटमेंट नहीं मिलेगा। उन्हें दूसरे साधारण सजायाफ्ता कैदियों के साथ जेल की बैरक में रातें गुजारनी पड़ेंगी।

 

इंटरव्यू में पक्षपात के दोष, 2 साथ भूमिगत रहे

कटवाल पर आरोप है कि उन्होंने वर्ष 2001-02 में अधीनस्थ सेवाएं चयन बोर्ड का चेयरमैन रहते हुए भर्तियों के दौरान साक्षात्कार में अंक देने के मामले में पक्षपात किया। इस कारण योग्य अभ्यर्थी सरकारी नौकरी प्राप्त करने से वंचित रह गए। कटवाल कच्ची पैंसिल का इस्तेमाल करते थे और बाद में अंकों में फेरबदल किया जाता था। भर्ती घोटाले में सजा होने के बाद कटवाल दो साल से भूमिगत थे। अदालत ने उन्हें भगौड़ा घोषित किया था। अदालत से बार-बार मोहलत मिलने के बाद भी वह आत्मसमर्पण नहीं कर रहे थे। दोषी कटवाल की याचिका सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी थी।

 

औपचारिकताएं पूरी करने के बाद बैरक में डाला

विजिलैंस ने मंगलवार को कटवाल को ऊना में पकड़ा था। अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश की अदालत ने एक साल का जेल वारंट बनाकर उन्हें कंडा जेल भेजने का आदेश दिया था। ऊना जिला की पुलिस बुधवार को पूर्व आईएएस अधिकारी कटवाल को लेकर शिमला के साथ लगते ग्रामीण क्षेत्र मेंं स्थित आदर्श जेल कंडा पहुंची। सभी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद उन्हें बैरक में डाल दिया गया। पुलिस कटवाल को जेल प्रशासन के हवाले कर वापस लौट गई।

 

लंबी लिस्ट दी कटवाल ने

यहां कोटखाई में छात्रा की दुष्कर्म के बाद हत्या के आरोपित सूरज की पुलिस हिरासत में मौत मामले में आरोपित निलंबित आइजी जहूर हैदर जैदी सहित आठ पुलिस अधिकारी व कर्मचारी भी कंडा जेल में बंद हैं। इन्हें वीआईपी सुविधाएं प्रदान की गई हैं, लेकिन कटवाल को इनके साथ नहीं रखा जाएगा। उन्हें अकेले रहने के लिए वीआईपी सेल नहीं मिलेगा। 80 वर्षीय कटवाल ने आदर्श जेल कंडा पहुंचते ही जेल प्रशासन को एक सूची दी। कटवाल ने कहा कि उनकी उम्र को देखते हुए सूची में शामिल खाना ही उन्हें दिया जाए। हालांकि जेल प्रशासन ने उन्हें सूची में शामिल खाना देने से इनकार कर दिया। प्रशासन ने कहा कि कटवाल को भी अन्य कैदियों को मिलने वाला खाना दिया जाएगा।

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..