लोकसभा चुनाव / ताऊ देवीलाल के जन्मदिन पर रैली में पहुचेंगे ओपी चौटाला, कोर्ट से मिली 2 हफ्ते की पैरोल



चौधरी ओमप्रकाश चौटाला। चौधरी ओमप्रकाश चौटाला।
X
चौधरी ओमप्रकाश चौटाला।चौधरी ओमप्रकाश चौटाला।

  • पत्नी स्नेहलता के निधन के बाद ओमप्रकाश चौटाला 14 दिन की पैरोल पर आए थे

Dainik Bhaskar

Sep 24, 2019, 02:18 PM IST

चंडीगढ़ (मनोज कुमार). ताऊ देवालाल के जन्मदिन पर 25 सितंबर बुधवार को कैथल में होने वाली रैली में इनेलो नेता ओमप्रकाश चौटाला भी शामिल होंगे। कोर्ट ने उन्हें राहत देते हुए 2 हफ्ते की पैरोल दे दी है। चौटाला की पैरोल 24 सितंबर को खत्म होने वाली थी लेकिन उन्होंने फिर से पत्नी की मृत्यु के बाद धार्मिक कार्य के लिए पैरोल की अर्जी लगाई थी, जिसे कोर्ट ने मंजूर कर लिया है। अब उन्हें 8 अक्टूबर तक राहत मिल गई है। 

 

बता दें कि कैथल में होने वाली ताऊ देवीलाल के जयंती समारोह के लिए दूसरे राज्यों के कई सीनियर नेताओं को भी न्यौता दिया गया है। इनमें कई वर्तमान और पूर्व मुख्यमंत्री व पूर्व प्रधानमंत्री शामिल हैं। पत्नी स्नेहलता के निधन पर चौटाला 14 दिन की पैरोल पर आए थे। बाद में 28 दिन की पैरोल और बढ़वाई गई थी, लेकिन 25 सितंबर को कैथल में होने वाली रैली से ठीक एक दिन पहले उनका पैरोल खत्म होने वाली थी। लेकिन चौटाला की ओर से दिल्ली हाई कोर्ट में पैरोल एक्सटेंशन की याचिका दाखिल की गई थी। 

 

इनेलो ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश यादव, यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव व अखिलेश यादव, पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा के अलावा चंद्रबाबू नायडू को न्योता भेजा है। पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल को भी निमंत्रण दिया है। अभय चौटाला ने कहा कि बादल का स्वास्थ्य कुछ कमजोर है, लेकिन वे पहले के कार्यक्रमों में आते रहे हैं। बादल को जननायक जनता पार्टी की रैली में नहीं बुलाया गया था। इस पर दुष्यंत चौटाला का कहना है कि यह संगठन की रैली थी, इसलिए नहीं बुलाया।

 

रैलियों की भीड़ से चाचा-भतीजे का वजन तौलेगी जनता
कैथल में होने वाली रैली में भीड़ जुटाने के लिए इनेलो ने पूरी ताकत लगाई हुई है। अभय चौटाला समेत इनेलो के वर्कर जुटे हुए हैं। रैली स्थल पर पंडाल लगाने का काम भी शुरू हो चुका है। खास बात यह है कि विधानसभा चुनाव से पहले जजपा की रोहतक में हुई रैली और इनेलो की कैथल में होने वाली रैली में मौजूद रहने वाली भीड़ पर सभी सियासतदानों की नजर भी रहेगी। क्योंकि रैली की भीड़ से प्रदेश की जनता दोनों का सियासी वजन भी तौलने के लिए तैयार है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना