चंडीगढ़ / राम रहीम की पैरोल पर हाईकोर्ट का आदेश- रोहतक जेल अधीक्षक ले फैसला

Jail Superintendent should take decision on Ram Rahim's parole, says High court.
X
Jail Superintendent should take decision on Ram Rahim's parole, says High court.

  • राम रहीम की पत्नी हरजीत कौर ने पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट में याचिका दायर कर मांगी पति के लिए पैरोल
  • याचिका में कहा गया कि राम रहीम की मां नसीब कौर 85 साल की हैं और वह बीमार हैं

दैनिक भास्कर

Aug 05, 2019, 09:04 PM IST

चंडीगढ़ (ललित कुमार). सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा मुखी राम रहीम की पत्नी हरजीत कौर ने पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट में याचिका दायर कर अपने पति के लिए पैरोल की मांग की है। याचिका में कहा गया कि राम रहीम की मां नसीब कौर 85 साल की है और वह बीमार है।

 

उन्हें हार्ट की समस्या है और उनकी एंजियोग्राफी करवाई जानी है। वे चाहती हैं कि उपचार के दौरान उनका बेटा पास रहे। हाईकोर्ट ने याचिका पर प्राथमिक सुनवाई के बाद इसका निपटारा करते हुए रोहतक जेल अधीक्षक को इस मामले में रिप्रेजेंटेंशन पर फैसला लेने के निर्देश दिए हैं।

 

कोर्ट ने कहा कि यदि जेल अधीक्षक को लगता है कि अच्छे व्यवहार के चलते पैरोल का लाभ नहीं दिया जा सकता तो वह रिप्रेजेंटेंशन को आगे संबंधित अथारिटी के समक्ष विचार के लिए भेज दें।

 

उम्रकैद की सजा काट रहा है राम रहीम 
जनवरी 2019 में सीबीआई की विशेष अदालत ने पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड में गुरमीत राम रहीम समेत चार लोगों को दोषी ठहराते हुए उम्रकैद की सजा सुनाई थी। जज जगदीप सिंह की अदालत ने फैसला सुनाया था कि राम रहीम की यह सजा साध्वी यौन शोषण मामले की 20 वर्ष की सजा पूरी होने के बाद शुरू होगी। सभी दोषियों पर 50 हजार जुर्माना भी लगाया गया था।

 

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना