चंडीगढ़ / डिस्क क्लबों से खराब हो रहा लॉ एंड ऑर्डर, रद्‌द किए जाएं इनके लाइसेंस



डेमो पिक्चर डेमो पिक्चर
X
डेमो पिक्चरडेमो पिक्चर

  • जीरकपुर और मोहाली में नहीं सुधर रहे डिस्क मालिक, एसएसपी ने डीसी को लिखा

Dainik Bhaskar

Oct 09, 2019, 12:22 PM IST

मोहाली. जिले का लॉ एंड ऑर्डर डिस्क कल्चर के कारण डिस्टर्ब हो रहा है और साथ ही नियमों का उल्लंघन हाे रहा है। यह बात एसएसपी मोहाली कुलदीप सिंह चहल की ओर से डीसी गिरीश दयालन को पत्र लिखकर कही गई है।


एसएसपी की ओर से डीसी को पत्र लिखकर यह भी कहा है कि जिले के सभी डिस्क क्लबाें के लाइसेंस रद्‌द किए जाएं। क्योंकि, डिस्क कल्चर से न सिर्फ जिले का लॉ एंड ऑर्डर खराब हो रहा है, वहीं आधी रात तक सड़कों पर न्यूसेंस देखने को मिलती है।


एसएसपी के पत्र के बाद एडीसी की अगुवाई में एक टीम का गठन किया है। उसे निर्देश दिए गए हैं कि नाइट क्लबों में जाकर रात के समय चेकिंग करें और जहां पर भी नियमों का उल्लंघन होता पाया गया वहां पर तुरंत लाइसेंस कैंसिल कर दिया जाए।


ईओ को दिए निर्देश, बनाई गई जाॅइंट टीम: डीसी मोहाली की ओर से जीरकपुर एमसी के ईओ को निर्देश देते हुए कहा है कि जीरकपुर में चलने वाले चार डिस्क क्लबों में चेकिंग की व्यवस्था की जाए। इतना ही नहीं डीसी की ओर से यह भी कहा गया है कि वो जीकरपुर एमसी के एसडीओ को एडीसी की टीम में शामिल कर डिस्क क्लबों में रात को नियमित रूप से समय पर चेकिंग करे और नियमों का उल्लंघन करने पर कार्रवाई करे।

हिप्नोटिक डिस्क में कोकीन परोसने के बाद हरकत में अाई पुलिस: कालका रोड पर स्थित ढकौली के हिप्नोटिक डिक्स में हाल ही में कोकीन परोसे जाने के खुलासे के बाद पुलिस हरकत में अाई है। इसके बाद एसएसपी मोहाली की ओर से डीसी को जिले के सभी डिस्क के लाइसेंस कैंसिल करने के लिए लिखा गया है। बीते दिनों हिप्नोटिक डिस्क के मालिक की ऑडी कार में उसका ड्राइवर दिल्ली से कोकिन लाते हुए डेराबस्सी के मुबारिकपुर पुलिस की ओर से पकड़ा गया था। ड्राइवर की ओर से पुलिस की ओर से की गई पूछताछ में खुलासा गया था वह दिल्ली से शुक्रवार को कोकिन लाते थे और शनिवार और रविवार को डिस्क में होने वाली पार्टी में आने वाले युवाओं को महंगे दाम पर बेचते थे। पुलिस ने डिस्क के मालिक को भी केस में नामजद किया था।


वॉकिंग स्ट्रीट डिस्क में हुआ था सीएम सिक्योरिटी के कमांडो का कत्ल: जिले के डिस्क क्लबों में किस प्रकार नियमों की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं, इसका अंदाजा इस बात से साफ लगाया जा सकता है कि डिस्क में नशे की हालत में लड़ाई-झगड़े के केस तो आम हैं। इतना ही नहीं फेज-11 के वॉकिंग स्ट्रीट डिस्क में सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह की सिक्योरिटी में तैनात कमांडो का कत्ल तक कर दिया गया था। स्ट्रीट में पार्टी करने आए कमांडो की डिस्क के अंदर मौजूद कुछ युवकों से बहस हो गई थी। डिस्क के बाहर आकर युवकों की ओर से कमांडो पर हमला करते हुए फायर कर दिया गया था। इसमें कमांडो की मौत हो गई थी। पुलिस की ओर से केस में भी वॉकिंग स्ट्रीट के डिस्क ऑनर्स पर डीसी के आदेशों की उल्लंघन करने के साथ-साथ डिस्क का लाइसेंस पक्के तौर पर कैंसिल करने के लिए लिख दिया गया था।
 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना