प्रस्ताव / चंडीगढ़ में आठ इलाकों के नाम बदलेगा प्रशासन, लोगों से आपत्ति और सुझाव मांगे

चंडीगढ़ के कुछ इलाकों के नाम चेंज होंगे। फाइल फोटो चंडीगढ़ के कुछ इलाकों के नाम चेंज होंगे। फाइल फोटो
X
चंडीगढ़ के कुछ इलाकों के नाम चेंज होंगे। फाइल फोटोचंडीगढ़ के कुछ इलाकों के नाम चेंज होंगे। फाइल फोटो

  • प्रपोजल लागू होता है तो मलोया और डड्डूमाजरा हो जाएंगे सेक्टर-39 वेस्ट
  • लोग 16 दिसंबर तक अपने सुझाव और आपत्ति दे सकते हैं

Dainik Bhaskar

Dec 03, 2019, 03:33 PM IST

चंडीगढ़. फ्रेंच आर्किटेक्ट ली कार्बूजिए ने जब चंडीगढ़ को बनाया था, तो इसमें कई एरिया को सेक्टर के बजाय दूसरे नाम दिए गए। अब ये सिस्टम बदलने वाला है, क्योंकि आठ क्षेत्रों के नामों को चंडीगढ़ प्रशासन बदलने जा रहा है।

क्षेत्रों के नाम बदलने के लिए प्रपोजल तैयार कर प्रशासक के पास भेजा गया था। मंजूरी मिलने के बाद अब लोगों से सुझाव और आपत्ति मांगे गए हैं। एडवाइजर मनोज परिदा के निर्देशों पर ये ड्राफ्ट फाइनल कर जारी किया गया है। लोग 16 दिसंबर तक अपने सुझाव और आपत्ति भेज सकते हैं।

सेक्टर-9डी यूटी सेक्रेटरिएट, डीलएक्स बिल्डिंग में चीफ आर्किटेक्ट ऑफिस में लिखित तौर पर सुझाव भेजे जा सकते हैं। अभी सिर्फ अलग-अलग एरिया के नाम बदले जाने को लेकर प्रपोजल है लेकिन जो रूरल एरिया सेक्टर बन जाएंगे, उनमें बायलाॅज पर भी असर होगा और सेक्टरों यानि अर्बन एरिया के ही बायलाॅज वहां पर लागू होंगे। अभी जो निर्देश एडवाइजर ने जारी किए हैं, उसमें लिखा गया है कि चंडीगढ़ के रुरल एरिया में जो बायलाॅज इस समय लागू हैं वही आगे निर्देश जारी होने तक लागू रहेंगे।

मलोया और डड्डूमाजरा हो जाएंगे सेक्टर-39 वेस्ट

  • मनीमाजरा: मनीमाजरा के लिए दो अलग-अलग प्रपोजल प्रशासन ने फाइनल किए थे। इसमें एक इसका नाम बदलकर सेक्टर-13 करने का था तो दूसरा सेक्टर एम करने का। लेकिन, अब जो अप्रूवल सीनियर ऑफिसर्स ने दी है, वह सेक्टर-13 के नाम से दी गई है।
  • मनीमाजरा का नाम आगे सेक्टर-13 किए जाने का प्रपोजल है। ये पहली बार होगा कि चंडीगढ़ में सेक्टर-13 होगा, क्योंकि पहले ली कार्बूजिए ने इस सेक्टर का प्रोविजन ही नहीं किया था और सेक्टर-12 के बाद सीधे सेक्टर-14 का प्रोविजन किया गया था।
  • सारंगपुर इंस्टीट्यूशनल एरिया: इस एरिया को साथ लगते सेक्टर-12 के चलते सेक्टर-12वेस्ट का नाम दिया जाएगा। इसमें सारंगपुर गांव का एरिया शामिल नहीं होगा।
  • धनास: धनास का नाम सेक्टर-14 वेस्ट किया जाएगा। इसमें धनास का पूरा एरिया, जिसमें मिल्क कॉॅलोनी और रिहैबिलिटेशन कॉॅलोनी भी शामिल होगी।
  • मलोया और डड्डूमाजरा: इन दोनों एरिया का नाम बदलकर सेक्टर-39 वेस्ट कर दिया जाएगा। पॉकेट नंबर 8:- विकास मार्ग के साथ में लगते इस एरिया को कोई नाम ही नहीं दिया गया था, जिसके चलते अब इस एरिया को सेक्टर-56 वेस्ट का नाम दिया जाएगा।

इंडस्ट्रियल एरिया के तीनों फेज के नाम भी बदले जाएंगे

इंडस्ट्रियलिस्ट की काफी पुरानी मांग थी कि इंडस्ट्रियल एरिया का नाम बदला जाना चाहिए। क्योंकि यहां पर कई प्लाॅट मालिकों ने कन्वर्जन करवाकर होटल और माॅल्स बना लिए। जबकि एरिया का नाम इंडस्ट्रियल एरिया ही रहा, जिससे ये लगता है कि ये सिर्फ इंडस्ट्री को लेकर ही एरिया है। अब इस एरिया का नाम बदलकर बिजनेस एंड इंडस्ट्रियल पार्क किया जाएगा। इसमें इंडस्ट्रियल एरिया फेज़-1 का नाम बिजनेस एंड इंडस्ट्रियल पार्क-1, इंडस्ट्रियल एरिया फेज-2 का नाम बिजनेस एंड इंडस्ट्रियल पार्क-2 और इंडस्ट्रियल एरिया फेज-3 का नाम बिजनेस एंड इंडिस्ट्रियल पार्क-3 किया जाएगा।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना