सुनवाई / सुखना कैचमेट एरिया में निर्माण पर लोगों को फिलहाल राहत नहीं, कोर्ट ने अगली तारीख दी

सुखना कैंचमेंट एरिया मामला। फाइल फोटो सुखना कैंचमेंट एरिया मामला। फाइल फोटो
X
सुखना कैंचमेंट एरिया मामला। फाइल फोटोसुखना कैंचमेंट एरिया मामला। फाइल फोटो

  • निर्माण कार्य गिराए जाने को लेकर स्थानीय निकाय विभाग से मिले नोटिस को लोगों ने कोर्ट में चुनौती दी है
  • स्थानीय निकाय विभाग की ओर से वकील ने कोर्ट में कहा- सुखना कैचमेंट एरिया में निर्माण कार्यों पर रोक है

Dainik Bhaskar

Dec 03, 2019, 12:00 PM IST

चंडीगढ़. सुखना कैचमेंट एरिया में निर्माण पर नया गांव, कांसल के स्थानीय निवासियों को पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट से फिलहाल कोई राहत नहीं मिल पाई है। निर्माण कार्य गिराए जाने को लेकर स्थानीय निकाय विभाग से मिले नोटिस को चुनौती देते हुए 80 से ज्यादा लोगों की याचिका पर चीफ जस्टिस रवि शंकर झा और जस्टिस राजीव शर्मा की खंडपीठ ने अगली सुनवाई तय की है।

याचिका में कहा गया कि मास्टर प्लान के हिसाब से उनका एरिया रेजीडेंशियल जोन में है। लिहाजा वे निर्माण कार्य कर सकते हैं। फॉरेस्ट और एग्रीकल्चर एरिया में निर्माण कार्य करने पर रोक है। ऐसे में उन्हें इस मामले में राहत दी जाए। दूसरी तरफ अदालत के सहयोगी (एमिकस क्यूरी) नियुक्त सीनियर एडवोकेट एमएल सरीन ने कहा कि सुखना कैचमेंट एरिया में निर्माण कार्यों पर रोक है। ऐसे में पंजाब और हरियाणा दोनों राज्यों की तरफ से निर्माण गतिविधियां जारी हैं, जिन पर रोक लगाई जानी चाहिए।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना