मोहाली / ओवरस्पीड कार ने फुटपाथ पर चल रहे तीन भाइयों को रौंदा था, हादसे के चार दिन बाद दो कोमा में

घटना 25 जनवरी की रात की है। वारदात के बाद चालक कार लेकर भाग गया था। - फाइल घटना 25 जनवरी की रात की है। वारदात के बाद चालक कार लेकर भाग गया था। - फाइल
कार से टक्कर के बाद दो भाई काफी दूर तक उछल कर गिरे थे। कार से टक्कर के बाद दो भाई काफी दूर तक उछल कर गिरे थे।
तीनों भाई इसी फुटपाथ पर टहल रहे थे। तीनों भाई इसी फुटपाथ पर टहल रहे थे।
X
घटना 25 जनवरी की रात की है। वारदात के बाद चालक कार लेकर भाग गया था। - फाइलघटना 25 जनवरी की रात की है। वारदात के बाद चालक कार लेकर भाग गया था। - फाइल
कार से टक्कर के बाद दो भाई काफी दूर तक उछल कर गिरे थे।कार से टक्कर के बाद दो भाई काफी दूर तक उछल कर गिरे थे।
तीनों भाई इसी फुटपाथ पर टहल रहे थे।तीनों भाई इसी फुटपाथ पर टहल रहे थे।

  • 25 जनवरी की रात टीडीआई सिटी के पास सर्विस लेन फुटपाथ पर टहल रहे थे तीनों भाई
  • वारदात को अंजाम देने के बाद भाग निकला था कार चालक, लोगों ने नोट कर लिया था नंबर

दैनिक भास्कर

Jan 30, 2020, 12:21 PM IST

मोहाली. 25 जनवरी की रात टीडीआई सिटी के पास सर्विस लेन फुटपाथ पर पैदल चल रहे 3 भाइयों को कार ने रौंद दिया था। टक्कर से दो भाई 50 से 70 मीटर दूर जाकर गिरे थे, जबकि एक फुटपाथ के साथ एक गढ्ढ़े में गिर गया था। हादसे के चार दिन बाद दो भाई कोमा में चले गए हैं।

हादसे में घायल हुए सुदीप धीमान ने बताया- टीडीआई सिटी में रिश्तेदार के घर रात को जागरण में आए थे। करीब 9.30 बजे चचेरे भाई प्रदीप धीमान और मयंक धीमान के साथ बाहर मेन रोड की ओर वॉक करने के लिए आए। जब फुटपाथ पर चल रहे तो अचानक पीछे से एक तेज रफ्तार कार आई और तीनों को टक्कर मार दी। कुछ समय बाद होश आया तो देखा कि उनका एक भाई करीब 50, दूसरा 70 मीटर दूर गिरा हुआ था। मौके पर पुलिस भी पहुंच चुकी थी। उन्होंने रिश्तेदारों को कॉल की और तुरंत प्रदीप और मयंक को फेज-6 मैक्स हॉस्पिटल में पहुंचाया। दोनों कोमा में हैं।

कार का साइड मिरर टूट कर वहीं बिखरा

हादसे में कार का साइड मिरर टूट कर वहीं बिखर गया और कार का अन्य सामान भी टूट कर मौके पर गिरा। लेकिन कार चालक ने कार को रोक कर घायलों का हाल जानने का प्रयास नहीं किया, बल्कि कार भगा ली और घायलों को वहीं पर मरने के लिए छोड़ दिया। जब कार चालक वहां से भागा तो पीछे से आ रहे लोगों ने कार चालक का पीछा किया। लोगों ने काफी कोशिश की कार चालक को पकड़ पाएं, लेकिन कार चालक की रफ्तार इतनी थी कि वो किसी के हाथ नहीं आया। लेकिन पीछा कर रहे लोगों ने कार का नंबर सीएच 01 बीके 1263 नोट कर पुलिस को दे दिया।
 

सीसीटीवी से मिल सकता है सुराग
हिट एंड रन केस में टक्कर मारकर फरार होने वाली गाड़ी को ट्रेस करने के लिए बलौंगी पुलिस टीम की ओर से प्रयास किए जा रहे हैं। पुलिस की और से इस एरिया के आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगालने का प्रयास किया जा रहा है। हालांकि इस एयरपोर्ट रोड पर जहां यह हादसा हुआ उसके पीछे वाले इंडस्ट्रियल एरिया फेज-8 लाइट पॉइंट पर कोई सीसीटीवी कैमरा नहीं लगा है। लेकिन उसके पीछे वाले इंस्ट्रीयल एरिया पुलिस चौकी लाइट पॉइंट पर पुलिस की ओर से चौराहे पर सीसीटीवी कैमरे लगवाए हुए हैं। जहां से इस गाड़ी का क्लू हाथ लग सकता है। अगर यह गाड़ी इसी एयरपोर्ट रोड से पीछे से आकर इस पॉइंट से क्रॉस करके गई होगी तो। पुलिस ने मौके पर मौजूद लोगों के बयान भी ले लिए हैं।
 

नंबर नोट कर लिया है, जांच कर रहे हैं
इस मामले में बलौंगी के एसएचओ अमरदीप सिंह ने बताया कि जिस कार के साथ एक्सिडेंट हुआ था उसका नंबर मौके पर मौजूद लोगों की ओर से नोट किया गया था। हादसे में घायलों के परिजनों के बयान पर केस दर्ज कर लिया गया है। बाकी मामले की जांच की जा रही है। जिस गाड़ी का नंबर हमारे पास आया है उसकी डीटेल्स निकलवा रहे हैं और साथ ही आस-पास के एरिया के सीसीटीवी कैमरों को खंगालने का प्रयास किया जा रहा है। जल्द ही गाड़ी ट्रेस कर ली जाएगी।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना